POLITICS

WTC Final 2021: युवराज सिंह ने रोहित शर्मा-शुभमन गिल को दी विशेष सलाह, बताया ड्यूक बॉल से निपटने का उपाय

  1. Hindi News
  2. खेल
  3. WTC Final 2021: युवराज सिंह ने रोहित शर्मा-शुभमन गिल को दी विशेष सलाह, बताया ड्यूक बॉल से निपटने का उपाय

वर्ल्ड कप 2011 में प्लेयर ऑफ द टूर्नामेंट रहे युवराज ने कहा कि भारतीय सलामी बल्लेबाजों के लिए हर एक सेशन बहुत महत्वपूर्ण है। बाएं हाथ के पूर्व बल्लेबाज ने कहा, इंग्लैंड में, एक समय में एक सीजन के हिसाब से रणनीति बनाना अहम है।

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व ऑलराउंडर युवराज सिंह ने WTC फाइनल 2021 से पहले रोहित शर्मा-शुभमन गिल को विशेष सलाह दी है। (सोर्स- एक्सप्रेस फाइल फोटो)

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व ऑलराउंडर युवराज सिंह ने विश्व टेस्ट चैंपियनशिप (World Test Championship) के फाइनल से पहले भारतीय ओपनर्स रोहित शर्मा और शुभमन गिल को विशेष सलाह दी है। उन्होंने दोनों को ड्यूक बॉल से निपटने का उपाय बताया है। न्यूजीलैंड के खिलाफ डब्ल्यूटीसी फाइनल में भारत की सलामी जोड़ी के बारे में अटकलें लगाईं जा रही हैं।

युवराज सिंह ने संकेत दिया कि वह रोहित शर्मा और शुभमन गिल के साथ जाएंगे। युवराज का मानना ​​है कि ऐसी संभावना है कि टीम इंडिया साउथैम्प्टन में डब्ल्यूटीसी फाइनल में भी इसी संयोजन के साथ उतर सकता है। स्पोर्ट्स तक से बातचीत में भारत के पूर्व हरफनमौला खिलाड़ी ने कहा, रोहित शर्मा अब टेस्ट मैचों में काफी अनुभवी हो चुका है। सलामी बल्लेबाज के रूप में उनके पास करीब 7 शतक हैं। रोहित और शुभमन गिल दोनों ने इंग्लैंड में कभी ओपनिंग नहीं की है।

ओपनिंग जोड़ी को लेकर शुभमन गिल और मयंक अग्रवाल में कड़ी प्रतिस्पर्धा है। हालांकि, पिछले 6 टेस्ट मैच से रोहित और गिल भारत के लिए ओपनिंग कर रहे हैं। रोहित और गिल ने पहली बार ऑस्ट्रेलिया में एक साथ पारी की शुरुआत की थी। उस सीरीज में मयंक और पृथ्वी शॉ बहुत सफल नहीं रहे थे। इसके बाद ही शुभमन गिल को ओपनिंग का मौका मिला था।

वर्ल्ड कप 2011 में प्लेयर ऑफ द टूर्नामेंट रहे युवराज ने कहा, रोहित और गिल दोनों को इंग्लैंड में घूमती ड्यूक बॉल के कारण आने वाली चुनौतियों से सावधान रहने की जरूरत है। उन्होंने कहा, वे जानते हैं क्या चैलेंज है। ड्यूक बॉल जल्दी स्विंग करती है। यही वजह है कि उन्हें जल्द से जल्द परिस्थितियों के लिए अभ्यस्त होना होगा।

युवराज ने कहा कि भारतीय सलामी बल्लेबाजों के लिए हर एक सेशन बहुत महत्वपूर्ण है। बाएं हाथ के पूर्व बल्लेबाज ने कहा, इंग्लैंड में, एक समय में एक सीजन के हिसाब से रणनीति बनाना अहम है। सुबह गेंद स्विंग और सीम करती है। दोपहर में आप रन बना सकते हैं। चाय के बाद, यह फिर से स्विंग करने लगती है। बतौर बल्लेबाज यदि आप इन चीजों के अनुकूल हो जाते हैं तो आप सफल हो सकते हैं।

भारत के मुख्य कोच रवि शास्त्री समेत कई पूर्व क्रिकेटर्स की तरह, युवराज ने भी डब्ल्यूटीसी के विजेता का फैसला करने के लिए सर्वश्रेष्ठ तीन फाइनल कराए जाने की वकालत की है।

Read More

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
%d bloggers like this: