LATEST UPDATES

यूपी: इस जिले में हजारों ट्रकों पर कार्रवाई… करोड़ों की कटौती, ये है वजह

यूपी में सरकार की ओर से सुपरमार्केट अभियान चलाया जा रहा है। इसी क्रम में बांदा पुलिस के आसा-पासा के प्रतिष्ठानों पर रेस्तरां अभियान चलाया जा रहा है। फैक्ट्री को ताक पर ले जाने वाले लोगों पर पुलिस ने बिजली का कटान किया। पुलिस के मुताबिक जिले में 13315 के ड्रायवर पर कार्रवाई की गई है।

एक्स

पुलिस की दुकान अभियान.

पुलिस की दुकान अभियान.

उत्तर प्रदेश के बांदा में नियमों को तोड़ने वाली सड़क पर फर्राटा भरने वालों पर पुलिस की कार्रवाई लगातार जारी है। जिले में अब तक 13 हजार से अधिक समूह पर कार्रवाई कर करीब करीब करोड़ रुपये से अधिक की वसूली की गई है। एसपी की जनता से अपील है कि सभी सरकारी कर्मचारी अपने पास रखें, जीवन मूल्य रखें, हर हॉल में आराम करें और सीट बेल्ट लगाकर यात्रा करें।

उत्तर प्रदेश में पूरे यूपी में ट्रैफिक माह के तहत अंडरटेकिंग अभियान चलाया जा रहा है। इसी क्रम में पुलिस सुरक्षा के आसा-पासा के शोरूम पर शोरूम अभियान चलाया जा रहा है। बांदा में इलेक्ट्रिक यूनिवर्सिटी को ताक पर ले जाने वाले लोगों पर पुलिस ने बिजली गिरा दी है। पुलिस के मुताबिक जिले में 13315 के ड्रायवर पर कार्रवाई की गई है। साथ ही अब तक जमीन पर करोड़ों से ज्यादा की रकम चुकाई जा चुकी है।

लोगों से अपील, शराब पीकर बिल्कुल भी नहीं गाड़ी चलाना

एसपी स्कोर अग्रवाल ने बताया कि जिले में ट्रैफिक माहा को लेकर स्कूल, कोचिंग से लेकर क्षेत्र सहित हर थाने में जागरूकता अभियान चलाया जा रहा है। इसमें लोगों को सड़क सुरक्षा से बचने के तरीके और प्लास्टिक-कॉलेजन की जानकारी दी जा रही है। लोगों से हमारी अपील है कि शराब पीकर बिल्कुल भी वाहन न चलाएं। भीम और सीट बेल्ट ज़रूर पहने। बाइक में ट्रिपलिंग से लाॅकडाउन.

जागरूकता अभियान चलाती पुलिस।
जागरूकता अभियान चलाती पुलिस।

सड़क पर मृतकों के आंकड़े पर स्केट ने स्ट्रेंथ चिंता का विषय बना दिया

उन्होंने बताया कि एक नवंबर से 17 नवंबर तक 13315 तक जिले में सामूहिक कार्रवाई की गई। इस टुकड़े करोड़ रुपए से अधिक की वसूली हुई। यह अभियान आगे भी जारी रहेगा। उन्होंने सभी से वेबसाइट को फॉलो करने की अपील की है। साथ ही कहा कि जीवन अनमोल है, तुम्हारे घर आने की राह कोई नहीं देखती। साथ ही एपस ने बांदा में सड़क दर्शको के बीच होने वाली फिल्म के दर्शकों की चिंता बढ़ा दी है।

Back to top button