LATEST UPDATES

मकान के बाद नाबालिग ने दी थी अपनी जान, नाबालिग को मिली 10 साल की सजा

बांदा में एक नाबालिग लड़की से रेप और उसे आत्महत्या के लिए उकसाने के मामले में कोर्ट ने उसे 10 साल की कड़ी सजा और 47 हजार रुपये की मामूली सजा सुनाई। दरअसल, साल 2019 में एक किशोर ने नाबालिग के घर में डकैती की वारदात को अंजाम दिया था। साथ ही कार्टून को जान से मारने की धमकी भी दी गई थी।

एक्स

(प्रतीकात्मक फोटो)

(प्रतीकात्मक फोटो)

उत्तर प्रदेश के बांदा में एक नाबालिग लड़की से रेप और आत्महत्या के मामले में कोर्ट ने कड़ा फैसला सुनाया है। मिशन शक्ति चरण 3 में माँ को 10 साल की कड़ी सज़ा और 47 हजार रुपये का बड़ा जुर्माना लगाया गया है। पिछले साल 2019 में एक किशोर ने नाबालिग के घर में डकैती की वारदात को अंजाम दिया था। इतना ही नहीं उसने घर में किसी को भी कुछ सुझाव देते हुए पूरे परिवार को खत्म करने की धमकी भी दी थी। जिसके बाद इलेक्ट्रानिक का निधन हो गया और उसने ब्लास्ट में अपनी जान दे दी।

पुलिस पर अभियोजन पक्ष की याचिका 376/ 452/ 305/ 506 सहित पॉक्सो एक्ट में मुकदमा दर्ज कार्रवाई की। प्रॉसिक्यूशन ने 8 गवाह पेश किए, 4 जज बदले, 20 से ज्यादा तारीखें पोस्ट कीं, डेल्स के बाद कोर्ट ने मासूम को दोषी करार देते हुए सजा सुनाई। इस दौरान पीड़ित परिवार ने कहा कि कोर्ट ने हमारे साथ न्याय किया है.

घर में तोड़फोड़ और तोड़फोड़ की धमकी दी गई थी जान से मारने की धमकी

यह मामला अतर्रा थाना क्षेत्र के एक गांव का है। सरकारी शैतान के अनुसार एक व्यक्ति ने थाने में सूचना दी कि वह बेटी के कमरे से आवाज सुनकर कमरे में पहुंचा तो बेटी रो रही थी। पर उसने बताया कि गाँव का रामचन्द्र आया था और उसके घर में नौकरानी की घटना को अंजाम दिया गया था। साथ ही किसी को बताया गया कि पूरे परिवार को जान से मारने की धमकी दी गई। इसके बाद माइक्रोसॉफ्ट की बेटी ने आत्महत्या कर ली।

बलात्कार के मूल को 10 साल की सज़ा, 47 हज़ार का जुर्मना

कोर्ट के सरकारी सचिव कमल सिंह गौतम ने बताया कि सीएम योगी के मिशन शक्ति चरण 3 के तहत एसपी आस्कर अग्रवाल के निर्देशन में यह कार्रवाई जारी है। अतर्रा थाना क्षेत्र के एक छात्र ने आत्महत्या के लिए उकसाने के मामले में नाबालिग मलखे पुत्र रामचन्द्र को 10 साल की सजा सुनाई है। साथ ही 47 हजार का जुर्माना भी लगाया गया. मूलभूत को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया है।

Back to top button