LATEST UPDATES

इजराइल-हमास संघर्ष में तबाही, त्रासदी और पीड़ा की दास्तान

हमास ने ऐसे भयानक हमले किए कैसे करें अंजाम?

इज़रायली सेना और खुफिया एजेंसी को सर्वश्रेष्ठ माना जाता है। लेकिन यह धारणा 7 अक्टूबर को तब हवा हो गई जब हमास ने इजराइल में 2200 रॉकेटों के हमले में अपनी कुल ताकत 3,000 लड़ाकों पर कब्जा कर लिया। ताकि पिछले 50 प्राचीनतम हमलों को अंजाम दिया जा सके।

इंडिया रिकॉर्ड्स ओपन प्रमाणित वैज्ञानिक टीम (OSINT) ने हमास के प्रोपेगैंडा स्टूडियो के जियोलोकेशन की स्टडी की, जिससे गाजा में ट्रेनिंग का पता चलता है। ऐसी भी रिपोर्ट आई जहां ईरानी समर्थन का जिक्र था, तेल अवीव ने अपनी खुफिया जानकारी को भी स्वीकार किया।

रिपोर्ट में इजराइल की इस धारणा का भी उल्लेख है कि वह हमास के साथ एक संतुलित संतुलन बना सकता है। हमास भी इजराइल के साथ सीधे सशस्त्र संघर्ष को अंजाम देने के पक्ष में नहीं है। कई तर्कों का मानना ​​है कि हम बड़े पैमाने पर संघर्ष नहीं करना चाहते।

कुछ लोगों का तो ये भी कहना है कि हम इजराइल की तकनीक से संचालित तकनीक से बचने के रास्ते ढूंढ रहे हैं। इजराइल को हमास के बारे में आधी-अधूरी जानकारी ही मिल रही है।

Back to top button