POLITICS

T20 World Cup 2021: जोस बटलर ने टूर्नामेंट का पहला शतक जड़ लगाई रिकॉर्ड्स की झड़ी, इंग्लैंड ने लगाया जीत का चौका; सेमीफाइनल में पक्की की जगह

जोस बटलर इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) 2021 में राजस्थान रॉयल्स का हिस्सा थे। उन्होंने टूर्नामेंट में 7 मैच खेले। इसमें उन्होंने 36.28 के औसत से 254 रन बनाए थे। इसमें उनका एक शतक (124 रन) भी था।

जोस बटलर ने सोमवार यानी एक नवंबर 2021 की रात शारजाह में टी20 बल्लेबाजी का शानदार प्रदर्शन करते हुए अपना पहला T20 इंटरनेशनल शतक लगाया। इसके साथ ही इंग्लैंड का यह बल्लेबाज आईसीसी टी20 विश्व कप 2021 में तिहरे अंक तक पहुंचने वाला पहला बल्लेबाज बन गया।

जोस बटलर इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) 2021 में राजस्थान रॉयल्स का हिस्सा थे। उन्होंने टूर्नामेंट में 7 मैच खेले। इसमें उन्होंने 36.28 के औसत से 254 रन बनाए थे। इसमें उनका एक शतक (124 रन) भी था।

मैन ऑफ द मैच जोस बटलर ने टी20 विश्व कप 2021 के 29वें मुकाबले में श्रीलंका के खिलाफ कठिन पिच पर 67 गेंद में नाबाद 101 रन बनाए। उनकी यह पारी इसलिए भी खास है, क्योंकि उन्होंने शुरुआती 30 गेंद में सिर्फ 24 रन बनाए थे, लेकिन बाद की 37 गेंद में उन्होंने 77 रन ठोक डाले।

जोस बटलर अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट के तीनों प्रारूपों में शतक लगाने वाले इंग्लैंड के पहले पुरुष टीम के बल्लेबाज बने। वह एलेक्स हेल्स के बाद टी20 विश्व कप में शतक लगाने वाले इंग्लैंड के दूसरे पुरुष बल्लेबाज भी बने। इस सेंचुरी के साथ जोस बटलर भी आईसीसी टी20 वर्ल्ड कप में शतक लगाने वाले क्रिस गेल (2), अहमद शहजाद, एलेक्स हेल्स, महेला जयवर्धने, ब्रेंडन मैकुलम, सुरेश रैना और तमीम इकबाल के क्लब में शामिल हो गए।

ऐसी पिच पर जहां इंग्लैंड के लिए रन बनाना आसान नहीं था, लेकिन बटलर ने अपनी पारी को शानदार तरीके से आगे बढ़ाया। उन्होंने 45 गेंद में अपना अर्धशतक पूरा किया। यह टी20 इंटरनेशनल में उका सबसे धीमा अर्धशतक था, लेकिन उन्होंने अपना अगला अर्धशतक केवल 21 गेंद में पूरा किया।

जोस बटलर ने अपनी शतकीय पारी के दौरान 6 छक्के और 6 चौके लगाए। जोस बटलर की पारी के दम पर इंग्लैंड ने श्रीलंका के खिलाफ 26 रन से जीत हासिल की। उसकी यह लगातार चौथी जीत है। इसके साथ ही उसकी सेमीफाइनल की सीट पक्की हो गई।

श्रीलंका ने टॉस जीता और गेंदबाजी का फैसला किया। इंग्लैंड ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 20 ओवर में 6 विकेट पर 163 रन बनाए। लक्ष्य का पीछा करने उतरी श्रीलंका की पारी 19 ओवर में 137 रन पर सिमट गई। इंग्लैंड की ओर से मोईन अली, आदिल राशिद और क्रिस जॉर्डन ने 2-2 विकेट लिए। क्रिस वोक्स और लियाम लिविंगस्टोन 1-1 विकेट लेने में सफल रहे।

श्रीलंका की ओर से वानिंदु हसरंगा हाइएस्ट स्कोरर रहे। उन्होंने 3 चौके और एक छक्के की मदद से 21 गेंद में 34 रन बनाए। उनके अलावा कप्तान दासुन शनाका और भानुका राजपक्षे ने 26-26 रन बनाए। चरित असालंका ने 21 और अविष्का फर्नांडो ने 13 रन का योगदान दिया।

इससे पहले इंग्लैंड की शुरुआत खराब हुई। उसने 35 रन पर तीन विकेट गंवा दिए थे। इसके बाद बटलर ने नाबाद 101 रन बनाए और इयोन मॉर्गन ने 36 गेंद में 40 रन की पारी खेली। दोनों ने चौथे विकेट के लिए 78 गेंद में 112 रन बनाकर इंग्लैंड को शुरुआती झटकों से उबार लिया।

श्रीलंका की शुरुआत भी बहुत खराब रही। उसके तीन विकेट 31 गेंद के भीतर ही गिर गए, जब स्कोर बोर्ड पर 34 रन टंगे थे। पाथुम निसांका (1) तीसरी गेंद पर रन आउट हो गए। कुसल परेरा (सात) और चरित असालांका (21) को लेग स्पिनर आदिल रशीद ने पवेलियन भेजा।

अविष्का फर्नांडो (13) और भानुका राजपक्षा (26) ने 23 रन की साझेदारी की लेकिन क्रिस जोर्डन ने नौवे ओवर में फर्नांडो को आउट करके इस साझेदारी को तोड़ा। श्रीलंका को 10 ओवर में 98 रन की जरूरत थी।

राजपक्षा ने वोक्स को लगातार चौका छक्का लगाकर दबाव कम करने की कोशिश की, लेकिन अगली गेंद पर आउट हो गए। इसके बाद से श्रीलंका के लिए वापसी करना मुश्किल हो गया। वानिंदु हसरंगा डिसिल्वा (34) और कप्तान दासुन शनाका (26) ने कोशिश की।

आखिरी 5 ओवर में श्रीलंका को 51 रन की जरूरत थी। जॉर्डन के 16वें ओवर में 10 रन बने। इसके बाद लियाम लिविंगस्टोन ने इस साझेदारी को तोड़कर श्रीलंका की वापसी की उम्मीदें खत्म कर दीं। इससे पहले इंग्लैंड ने दूसरे ही ओवर में सलामी बल्लेबाज जेसन रॉय (नौ) का विकेट गंवा दिया था।

लेग स्पिनर डिसिल्वा ने 21 रन देकर तीन विकेट लिए। डिसिल्वा ने दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ मैच में हैट्रिक बनाई थी। इंग्लैंड ने जल्दी ही दो विकेट और गंवा दिए। डेविड मालन (छह) को पहले दुष्मंता चामीरा ने तीसरे ओवर में आउट किया, जबकि दो ओवर बाद जॉनी बेयरस्टो (0) को डिसिल्वा ने पगबाधा आउट किया। श्रीलंका को रिव्यू पर यह सफलता मिली।

इस बीच बटलर ने रनगति को बढाने की कोशिश की। इंग्लैंड ने पहले दस ओवर में सिर्फ 47 रन बनाए थे। बटलर ने दसवें ओवर के बाद हाथ खोलने शुरू किये। उन्होंने चमिका करुणारत्ना के 13वें ओवर में 14 रन बनाए। उन्होंने मिड ऑन पर चौका लगाने के बाद डीप में छक्का लगाया।

तेज गेंदबाज लाहिरू कुमारा के 15वें ओवर में 22 रन बने, जिसमें बटलर ने दो छक्के और मॉर्गन ने एक छक्का लगाया। मॉर्गन के आउट होने के बाद भी बटलर का आक्रामक खेल जारी रहा। उन्होंने चामीरा को छक्का लगाकर अपना शतक पूरा किया। इंग्लैंड ने आखिरी पांच ओवर में एक विकेट गंवाकर 58 रन बनाए।

Read More

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
%d bloggers like this: