POLITICS

Shaheen Bagh Bulldozer Drive: जब मैं मस्जिद का वजु खाना तुड़वा सकता हूं तो ये मुझसे कहते तो सही, बोले AAP MLA अमानतुल्लाह

अमानतुल्लाह ने कहा कि एमसीडी चुनाव के लिए बीजेपी के पास कोई मुद्दा नहीं है, तो बीजेपी ने ओखला और हिन्दू-मुसलमान को चुना।

दिल्ली के शाहीन बाग में एमसीडी अतिक्रमण हटाओ अभियान के तहत अवैध निर्माण को तोड़ने पहुंची थी। लेकिन एमसीडी को अपनी कार्रवाई रोकनी पड़ी क्योंकि स्थानीय नागरिकों ने इसके खिलाफ बुलडोजर के सामने बैठ कर प्रदर्शन किया। मामला सुप्रीम कोर्ट पहुंचा है और सुप्रीम कोर्ट ने भी पूछा है कि जब सुनवाई का समय तय है, तो बुलडोजर क्यों पहुंचा? वहीं मौके पर AAP विधायक अमानतुल्लाह खान भी पहुंचे और कार्रवाई का विरोध किया।

अमानतुल्लाह खान ने मीडिया से बात करते हुए कहा, “अतिक्रमण यहाँ पर कहीं भी नहीं है और है तो एमसीडी के लोग आएं और दिखा दें। पीडब्लूडी के रोड का नक्शा भी एमसीडी के पास होगा, अगर कहीं अतिक्रमण है तो बता दें मैं हटा लूँगा, ये राजनीति क्यों कर रहे हैं। एमसीडी चुनाव के लिए बीजेपी के पास कोई मुद्दा नहीं है, तो बीजेपी ने ओखला को और हिन्दू-मुसलमान को चुना। सिर्फ हिन्दू-मुसलमान करने के लिए ये कार्रवाई हो रही है क्योंकि अमानतुल्लाह के नाम पर ही ये हिन्दू मुसलमान करेंगे।

अमानतुल्लाह खान ने आगे कहा, “मेरे अनुरोध पर लोगों ने पहले ही अतिक्रमण हटा लिया है। यहां की एक मस्जिद के बाहर ‘वजू खाना’ और शौचालय को पहले पुलिस की मौजूदगी में हटाया गया था। मैंने खुद अपनी जेसीबी लगवाकर हटवाई। जब अतिक्रमण ही नहीं है तो वे यहां क्यों आए हैं? सिर्फ राजनीति करने के लिए?”

मनोज तिवारी ने कहा- शाहीन बाग में बुलडोजर की कार्रवाई रोकने वालों की संपत्ति कुर्क हो

वहीं बुलडोजर कार्रवाई को लेकर बीजेपी सांसद मनोज तिवारी ने अमानतुल्लाह खान पर निशाना साधा है। मनोज तिवारी ने कहा, “जो भी सड़कों का अवैध अतिक्रमण रोकने के लिए आगे आ रहा है, उनकी संपत्ति कुर्क होनी चाहिए, चाहे वो मनोज तिवारी ही क्यों न हो। अगर यही सब चलता रहा तो ऐसा हो जायेगा कि सड़कों के बीच लोग आ जाएंगे और आप चल नहीं पाएंगे।”

बुलडोजर कार्रवाई का मामला सुप्रीम कोर्ट में पहुंच गया और इस मामले पर सुप्रीम कोर्ट में सीपीआईएम की याचिका खारिज हो गई है। सुप्रीम कोर्ट ने सीपीआईएम को हाईकोर्ट जाने की सलाह दी है। इसके अलावा सुप्रीम कोर्ट ने सुनवाई से पहले ही सवाल किया कि जब अतिक्रमण के खिलाफ कार्रवाई का मामला पहले से कोर्ट में है, तो फिर शाहीन बाग में बुलडोजर क्यों पहुंचा?

वहीं बीजेपी पार्षद राजपाल सिंह ने कहा, ” दुकानदारों और पुलिस को इस अभियान के बारे में पहले ही सूचित कर दिया गया था। जो अवैध अतिक्रमण हैं, हम केवल उनके खिलाफ कार्रवाई कर रहे हैं। हम सड़कों को साफ करना चाहते हैं। हम आम आदमी पार्टी की तरह नहीं हैं जो लोगों को अवैध रूप से जगहों पर कब्जा करने के लिए प्रेरित करें।”

Read More

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
%d bloggers like this: