POLITICS

China में मस्जिद गिराने पहुंची पुलिस तो हो गया बवाल, वायरल हो रहा घटना का VIDEO

चीन में राष्ट्रपति शी जिनपिंग के खिलाफ लोगों का आक्रोश बढ़ता दिख रहा है। पहले कोरोना को लेकर दिखी सख्ती के खिलाफ लोगों का गुस्सा फूटा था, अब दक्षिण-पश्चिम क्षेत्र में स्थित एक मस्जिद को गिराने को लेकर बड़ा बवाल खड़ा हो गया है। बताया जा रहा है कि पुलिस की टीम पुरानी मस्जिद की […]

चीन में राष्ट्रपति शी जिनपिंग के खिलाफ लोगों का आक्रोश बढ़ता दिख रहा है। पहले कोरोना को लेकर दिखी सख्ती के खिलाफ लोगों का गुस्सा फूटा था, अब दक्षिण-पश्चिम क्षेत्र में स्थित एक मस्जिद को गिराने को लेकर बड़ा बवाल खड़ा हो गया है। बताया जा रहा है कि पुलिस की टीम पुरानी मस्जिद की गुंबददार छत को गिराने आई थी, लेकिन वहां उसकी लोकल लोगों के साथ भिड़ंत हो गई।

घटना का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया है। वीडियो में चीन की पुलिस के सामने लोग चट्टान की तरह खड़े हैं, शोर शराबा हो रहा है और मस्जिद को तोड़ने से बचाया जा रहा है। अभी के लिए पुलिस उस मस्जिद को नहीं गिरा पाई है और लोगों के प्रदर्शन की वजह से उसे पीछे हटना पड़ गया है। लेकिन इस कार्रवाई से स्थानीय लोगों में नाराजगी है और वे इसके खिलाफ नारेबाजी कर रहे हैं।

? Footage from China’s Yunnan province allegedly shows clashes between Hui Muslims and police after being denied mosque entry.
Online info hints at authorities planning mosque demolition. pic.twitter.com/f0MTjZZqZg

— Mete Sohtaoğlu (@metesohtaoglu) May 29, 2023

जानकारी के लिए बता दें कि साल 2020 में कोर्ट ने माना था कि इस मस्जिद का कुछ हिस्सा अवैध, उसी कड़ी में पुलिस कार्रवाई करने आई थी। लेकिन लोगों ने ऐसा करने नहीं दिया और पुलिस को खाली हाथ ही वापस जाना पड़ा। वैसे चीन में पहले भी देखा गया है कि वहां की सरकार लोगों की धार्मिक गतिविधियों पर भी अपना नियंत्रण चाहती है, इसी वजह से जमीन पर काफी सख्ती देखने को मिलती है।

इसी कड़ी में नाजियायिंग मस्जिद के खिलाफ भी पुलिस सख्त कार्रवाई करने आई थी। बड़ी बात ये है कि चीन की एक काफी पुरानी मस्जिद है, 13वीं शताब्दी की बताई जा रही है। पिछले कुछ सालों में कई मौकों पर इस मस्जिद में निर्माण हुए हैं, उनको लेकर ही सारा विवाद देखने को मिल रहा है।

Read More

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button