POLITICS

लौंडिया में विजयादशमी को पूजा की जाती है ‘रावण’: खून का तिलक लगाते हैं माथा टेकते लोग; पाइप में 200 साल पुराना मंदिर

स्पष्टीकरण23 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक
लौंडिया के प्लाइप में बना रावण का सूट 200 साल पुराना मंदिर।  जहां लोग विजयादशमी को रावण की पूजा करते हैं।  यहां रावण को नहीं जलाया जाता।  - दैनिक भास्कर

लौंडिया के प्लाइप में बना रावण का सूट 200 साल पुराना मंदिर। जहां लोग विजयादशमी को रावण की पूजा करते हैं। यहां रावण को नहीं जलाया जाता।

जहां एक तरफ देश में विजय दशमी के दिन रावण के साथ कुंभकर्ण और मेघनाद के पुतले दहने जाते हैं। वहीं दूसरी ओर पंजाब के जिला लुधियाना के शहर पीली में चार वेदों के ज्ञाता रावण को नहीं जलाया जाता, बल्कि उसकी स्वीकृत पूजा की जाती है। यह पूजा पूरे दिन चलती रहती है। यहां 200 साल पुराना रावण का मंदिर है।

अन्यथा की माने तो यह प्राथमिक 1835 से मोटर आ रही है, जो


लॉकआइकॉन

सामग्री अवरोधक

दैनिक भास्कर ऐप पर इस खबर को पूरा पढ़ने के लिए।

डीबी क्यूआर कोड

ऐप डाउनलोड करने के लिए QR स्कैन करेंएंड्रॉइड ऐप डाउनलोड करें - दैनिक भास्करआईओएस ऐप डाउनलोड करें - दैनिक भास्कर

मुफ़्त में ऐप पढ़ेंप्रीमियम सदस्यता है तो लॉगिन करें

Back to top button