POLITICS

राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने नेपाल को बताया भारत की प्राथमिकता, दोनों देशों के बीच हुए 7 समझौते

India Nepal Relations: गुरुवार को भारत और नेपाल के बीच 7 समझौतों पर हस्ताक्षर हुए। गुरुवार को नेपाल के पीएम ने राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात की।

नेपाल के प्रधानमंत्री पुष्पकमल दहल ‘प्रचंड’ भारत दौरे पर हैं। गुरुवार को उन्होंने राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू से मुलाकात की। इस मुलाकात के बाद MEA की तरफ से बताया गया कि राष्ट्रपति ने कहा कि नेपाल भारत की प्राथमिकता है। उन्होंने विश्वास व्यक्त किया कि नेपाल के पीएम की यात्रा दोनों देशों के रिश्तों को और मजबूत करेगी।

इससे पहले नेपाल के पीएम ने पीएम नरेंद्र मोदी से मुलाकात की। दोनों दिग्गजों की बातचीत के बाद पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा, “हम अपने संबंधों को हिमालय की ऊंचाइयों पर ले जाने का प्रयास जारी रखेंगे और इसी भावना के साथ हम सभी मुद्दों का समाधान करेंगे, चाहे वह सीमा से जुड़ा हो या कोई अन्य मुद्दा।”

इन समझौतों पर हुस्ताक्षर

इस दौरान भारत और नेपाल के बीच सीमा पार पेट्रोलियम पाइपलाइन के विस्तार, एकीकृत जांच चौकियों के विकास और पनबिजली में सहयोग बढ़ाने सहित विभिन्न क्षेत्रों में सहयोग बढ़ाने के लिए सात समझौतों पर भी हस्ताक्षर किए। दोनों नेताओं ने भारत के रुपईडीहा और नेपाल के नेपालगंज में एकीकृत जांच चौकियों का डिजिटल माध्यम से उद्घाटन किया। उन्होंने बिहार के बथनाहा से नेपाल कस्टम यार्ड के लिए एक मालवाहक रेलगाड़ी को भी हरी झंडी दिखाई।

और क्या बोले पीएम नरेंद मोदी

  • प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि मुझे याद है कि 9 साल पहले 2014 में कार्यभार संभालने के तीन महीने के भीतर मैंने नेपाल की अपनी पहली यात्रा की थी। उस समय मैंने भारत-नेपाल संबंधों के लिए एक “हिट” फार्मूला दिया था- हाईवेस, आई-वे, और ट्रांस-वे।
  • उन्होंने कहा कि आज मैंने और प्रधानमंत्री प्रचंड ने भविष्य में अपनी पार्टनरशिप को सुपरहिट बनाने के लिए बहुत से महत्वपूर्ण निर्णय लिए हैं। आज ट्रांजिट अग्रीमेंट संपन्न किया गया है।
  • प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आगे कहा कि आज भारत और नेपाल के बीच ‘लॉन्ग टर्म पावर ट्रेड एग्रीमेंट’ संपन्न हुआ है। इसमें हमने आने वाले 10 वर्षों में नेपाल से 10 हज़ार मेगावाट बिजली आयात करने का लक्ष्य रखा है।

प्रचंड ने पीएम मोदी को दिया नेपाल आने का न्योता

इस दौरान नेपाल के प्रधानमंत्री प्रचंड ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को नेपाल आने का न्योता दिया। उन्होंने कहा, “मैंने प्रधानमंत्री मोदी को नेपाल आने का आमंत्रण दिया है, मुझे उम्मीद है कि प्रधानमंत्री मोदी जल्द नेपाल का दौरा करेंगे।”

भारत-नेपाल में है रोटी-बेटी का रिश्ता

भारत और नेपाल की विभिन्न सरकारों ने हमेशा सदियों पुराने ‘रोटी-बेटी’ संबंधों पर ध्यान दिया है। यह दोनों देशों के लोगों के बीच शादी ब्याह के रिश्तों को दर्शाता करता है। नेपाल की सीमा भारत के पांच राज्यों – उत्तराखंड, सिक्किम, पश्चिम बंगाल, उत्तर प्रदेश और बिहार के साथ लगती है। पांचों राज्य कुल मिलाकर नेपाल के साथ 1,850 किलोमीटर से अधिक सीमा साझा करता है।

Read More

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button