POLITICS

राशन के लिए तरस रही पाकिस्तानी सीमा… तोहफों की झड़ी देखती भारतीय अंजू, सेम सी दिख रहीं दो लव स्टोरी के अंजाम अलग कैसे

भारत में कहने को कई मुद्दे इस समय प्राथमिकता में होने चाहिए। बेरोजगारी, महंगाई से लेकर अर्थव्यवस्था तक, कई मुद्दों पर चर्चा होनी चाहिए। लेकिन भारत में इस समय दो चीजें सबसे ज्यादा ट्रेंड कर रही हैं- एक सीमा हैदर और दूसरी अंजू। एक पाकिस्तान से भारत आई, एक भारत से पाकिस्तान गई। दोनों ने अपने पति को छोड़ा, दोनों ने प्यार के लिए सरहद पार की, लेकिन अंजाम एकदम अलग चल रहा है। एक शक के घेरे में है, लगातार सवाल-जवाब का सामना कर रही है, तो वहीं दूसरी को VIP ट्रीटमेंट दिया जा रहा है, घर बैठे-बैठे सैलरी देने की बात हो रही है।

सीमा हैदर की कहानी और कानून टूटने वाला पहलू

अब सीमा हैदर और अंजू की कहानी में कई समानताएं हैं, लेकिन दोनों का अंजाम एकदम अलग दिखाई पड़ रहा है। उस अलग अंजाम को समझने के लिए दोनों की कहानी जानना जरूरी हो जाता है। सीमा हैदर को पबजी खेलना पसंद था, उसी गेम को खेलते-खेलते सचिन मीणा से जान-पहचान हुई। उस जान-पहचान ने एक दोस्ती का रूप लिया और फिर प्यार हो गया। फिर उस प्यार में सीमा ने सचिन से शादी करने की ठानी, साथ में रहने की कसमें खालीं। इसके बाद सीमा पहले दुबई गई, दुबई से नेपाल गई, नेपाल में शादी की और फिर भारत में अवैध तरीके से एंट्री।

सीमा केस में बड़ी बात ये है कि उसके पास कोई वीजा नहीं था, दस्तावेज नहीं थे, बस 5 पासपोर्ट, 5 फोन और कई आधार कार्ड मिले। इसी वजह से पाकिस्तान से आई सीमा हैदर विवादों में आ गई, जांच एजेंसियों ने उससे पूछताछ की, कई सवाल दागे। इसके ऊपर सीमा ने जिस तरह से हिंदू धर्म अपना लिया, जिस तरह से मांग में सिंदूर और नॉन वेज खाना छोड़ दिया, इसने भी सभी का ध्यान खींचा। इस केस में दो थ्योरियां चलीं- सीमा जासूस है और दूसरी सीमा ने प्यार के लिए सारी हदें पार कर दीं।

सीमा की क्यों हुई दुर्गति, खाने के लाले कैसे पड़े?

अब आजतक की खबर के मुताबिक इस समय सीमा हैदर और सचिन मीणा के पास खाने के लाले पड़ गए हैं। जांच एजेंसियां क्योंकि पूछताछ कर रही हैं, ऐसे में दोनों घर छोड़ कही नहीं जा सकते हैं। इसी वजह से काम-धंधा ठप पड़ चुका है और कमाई का कोई जरिया नहीं दिख रहा। यानी कि शुरुआत में सुर्खियां बटोरने वाली सीमा हैदर अब परेशान और बेबस हो गई है।

अब ये सीमा हैदर की कहानी थी जिसने प्यार के लिए किया तो काफी कुछ, लेकिन क्योंकि कानून तोड़ा, फर्जी दस्तावेज तैयार किए, ऐसे में उसका अंजाम अर्थ से फर्श तक जैसा रहा। लेकिन राजस्थान की रहने वाली अंजू का मामला कुछ अलग है। कहने को उसने प्यार की खातिर भारत से पाकिस्तान तक का सफर तय किया है, लेकिन उसने कोई कानून नहीं तोड़ा, अवैध तरह से दूसरे देश में एंट्री नहीं की। इसी वजह से पाकिस्तान जाकर भी वो खुश दिखाई पड़ रही है, उसकी तरफ से सोशल मीडिया पर कई वीडियो शेयर किए जा रहे हैं।

अंजू की कहानी और धर्म परिवर्तन का एंगल

अंजू फेसबुक के जरिए नसरुल्लाह से मिली थी। वो सही मायनों में नसरुल्लाह से प्यार करती थी या नहीं, शुरुआत में ये साफ ही नहीं हो पाया था। असल में अंजू ने अपने पति को कुछ और बताया था और अपने ऑफिस कोई अलग बहाना बताया। वो पति को बोलकर गई कि जयपुर बहन से मिलने जा रही है, वहीं ऑफिस में बताया कि गोवा घूमने जाना है। लेकिन दोनों बातें झूठ निकली और अंजू पहुंच गई पाकिस्तान। वो पहले दिल्ली गई, दिल्ली से अमृतसर गई और फिर वहां से पाकिस्तान के लिए निकल गई।

अब यहां तक तो अंजू और सीमा की कहानी समान ही लगती है। लेकिन एक फर्क है, अंजू कानूनी तरीके से पाकिस्तान गई, वहीं सीमा अवैध तरीके से भारत में आई थी। एक और बड़ा फर्क ये है कि भारत में सीमा को शक की नजर से देखा जा रहा है, उसे जासूस माना जा रहा है, ऐसे में उससे लगातार सवाल-जवाब हो रहे हैं। वहीं दूसरी तरफ अंजू को पाकिस्तान में इस समय VIP ट्रीटमेंट मिल रहा है। असल में तर्क दिया जा रहा है कि क्योंकि अंजू ने अपना धर्म परिवर्तन किया है, क्योंकि उसने खुद को फातिमा बना लिया है, ऐसे में उसे पसंद किया जा रहा है।

इस्लाम कुबूल किया, इसलिए अंजू को मिला तोहफा

आलम ये चल रहा है कि अंजू को प्लॉट तोहफे के तौर पर दे दिया गया है, उसे नौकरी का भी ऑफर दिया गया है। कहा गया है कि अगर पाकिस्तान की नागरिकता ले ली जाएगी तो और कई फायदे दिए जाएंगे। लेकिन जो तोहफे मिल रहे हैं, उसके पीछे का कारण वो धर्म परिवर्तन है जहां अंजू हिंदू से मुस्लिम बन गई है। जिस बिजनेसमैन ने उसे तोहफा दिया, उसका भी यहीं कहना है कि अंजू ने इस्लाम कुबूल किया है, ऐसे में उसकी मदद की जा रही है। इसी वजह से अंजू को 50 हजार रुपये का चेक भी मिल गया है। अब एक तरफ भारत में सीमा के धर्म को लेकर कोई चर्चा नहीं है, लेकिन पाकिस्तान में उसने क्योंकि इस्लाम कुबूल किया है, उसे सारा सम्मान दिया जा रहा है।

Read More

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button