POLITICS

मोदी सरकार की टेंशन हाई! मानसून सत्र में कांग्रेस उठाएगी ये 9 मुद्दे, कहीं UCC की राह न हो जाए मुश्किल?

Parliament Monsoon Session: कांग्रेस ने मानसून सत्र के दौरान केंद्र सरकार को घेरने की पूरी तैयारी कर ली है। कांग्रेस की सूची में मणिपुर हिंसा का मुद्दा सबसे अहम है। कांग्रेस नेता जयराम रमेश ने कहा कि सदन में हम कुछ मुद्दों पर चर्चा चाहते हैं। पहला मुद्दा मणिपुर है। हम चाहते हैं कि प्रधानमंत्री की मौजूदगी में मणिपुर की स्थिति पर चर्चा हो। संसद का मानसून सत्र 20 जुलाई से शुरू होगा और 11 अगस्त तक चलेगा। वहीं मानसून सत्र के दौरान केंद्र सरकार सदन में यूसीसी बिल लाने की योजना बना रही। ऐसी स्थिति में मोदी सरकार के लिए UCC बिल पास कराना आसान नहीं होगा, क्योंकि जब कांग्रेस इन नौ मुद्दों पर चर्चा की मांग करेगी तो जाहिर सी बात है कि संसद का मानसून सत्र काफी हंगामेदार होगा।

कांग्रेस नेता जयराम रमेश ने कहा कि प्रत्यक्ष व अप्रत्यक्ष रूप से मोदी सरकार या मोदी सरकार के नियुक्त किए गए व्यक्तियों के द्वारा जो संघीय ढांचे, चुने हुए सरकारों पर आक्रमण हो रहा है। हम उसके खिलाफ रहे हैं और आगे भी रहेंगे। जयराम रमेश ने बताया कि आज हमारी ‘पार्लियामेंट्री स्ट्रैटजी ग्रुप’ की दूसरी बैठक हुई। इस बैठक में हमने मानसून सत्र को लेकर लम्बी चर्चा की। उन्होंने कहा कि संसद में जो मुद्दे हमें उठाने हैं उसको लेकर हमने चर्चा की। यह नौ मुद्दे हैं जिनपर पर चर्चा चाहेंगे।

मणिपुर चर्चा

मणिपुर में 3 मई से कुकी और मैतेई समुदाय के बीच हिंसा जारी है। इस हिंसा में अब तक 150 से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है, कई घायल हुए हैं और सैकड़ों लोग राज्य से पलायन कर चुके हैं। इसी को लेकर राहुल गांधी ने शनिवार को ट्वीट करते हुए पीएम की चुप्पी पर निशाना साधा।

राहुल ने लिखा, मणिपुर जल रहा। यूरोपियन संसद ने भी भारत के आंतरिक मामले पर चर्चा की। पीएम ने इस पर एक शब्द भी नहीं कहा। राफेल ने पीएम को बैस्टिल डे परेड का टिकट दिला दिया। राहुल के ट्वीट पर केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने पलटवार किया। स्मृति ने राहुल को राजवंश का हारा हुआ व्यक्ति बताया। ईरानी लिखती हैं, एक व्यक्ति जो भारत के आंतरिक मामलों में अंतरराष्ट्रीय हस्तक्षेप चाहता है। जब हमारे प्रधानमंत्री को राष्ट्रीय सम्मान मिलता है तो राजवंश का वह हारा हुआ व्यक्ति भारत का मजाक उड़ाता है। लोगों ने उसे खारिज कर दिया है। स्मृति के बयान पर कांग्रेस जनरल सेक्रेटरी केसी वेणुगोपाल ने कहा, स्मृति जी पीएम से कहिए इस पर बात करें। प्रधानमंत्री दुनिया भर में घूम रहे हैं लेकिन मणिपुर मुद्दे पर एक मिनट भी बात नहीं कर रहे हैं।

रेल सुरक्षा पर चर्चा

ओडिशा के बालासोर में 2 जून को हुए भीषण रेल हादसे में 292 लोगों की मौत हो गई थी। इस हादसे की जांच कर रही सीबीआई ने इस मामले में कार्रवाई करते हुए तीन रेलवे कर्मचारियों को गिरफ्तार किया है। इन कर्मचारियों को आईपीसी की धारा 304 (गैर इरादतन हत्या) के तहत गिरफ्तार किया है। इस हादसे में तीन ट्रेनें एक दूसरे की चपेट में आईं थीं। हादसे के बाद कांग्रेस समेत कई विपक्षी दलों ने रेल मंत्री का इस्तीफा मांग था। साथ रेल सुरक्षा को लेकर सवाल खड़े किए थे।

आज हमारी ‘पार्लियामेंट्री स्ट्रैटजी ग्रुप’ की दूसरी बैठक हुई। इस बैठक में हमने मानसून सत्र को लेकर लम्बी चर्चा की।

संसद में जो मुद्दे हमें उठाने हैं उसको लेकर हमने चर्चा की। यह मुद्दे हैं जिनपर पर चर्चा चाहेंगे ?

• मण‍िपुर पर चर्चा
• रेल सुरक्षा पर चर्चा
• संघीय ढांचे पर… pic.twitter.com/Lvh5jpPyN9

— Congress (@INCIndia) July 15, 2023

संघीय ढांचे पर आक्रमण पर चर्चा

कांग्रेस नेता जयराम रमेश ने आज कहा कि प्रत्यक्ष व अप्रत्यक्ष रूप से मोदी सरकार या मोदी सरकार के नियुक्त किए गए व्यक्तियों के द्वारा जो संघीय ढांचे, चुने हुए सरकारों पर आक्रमण हो रहा है। हम उसके खिलाफ रहे हैं और आगे भी रहेंगे।

GST को PMLA के तहत लाने पर चर्चा

केंद्रीय वित्त मंत्रालय ने जीएसटी को पीएमएलए तहत डाल दिया है। इससे छोटे व्यापारियों में भय का माहौल पैदा हो गया। अखिल भारतीय उद्योग व्यापार मंडल ने प्रधानमंत्री को संबोधित ज्ञापन वाणिज्य कर के डिप्टी कमिश्नर को सौंपा है। संगठन ने जीएसटी को पीएमएलए के तहत न डाले जाने की मांग की है। कांग्रेस ने इसको लेकर चर्चा की बात कही है।

महंगाई पर चर्चा

गैस, पेट्रोल-डीजल के दाम आसमान छू रहे हैं। सभी रोजमर्रा की चीजें महंगी हो गईं हैं। हालांकि, कांग्रेस बढ़ती महंगाई को लेकर सरकार पर हमलावर रही, लेकिन इस बार पार्टी ने मानसून सत्र के दौरान महंगाई पर चर्चा की रणनीति बनाई है।

UPA सरकार की योजनाओं को कमजोर करने पर चर्चा

कांग्रेस पार्टी का मानना है कि यूपीए सरकार के दौरान जो योजनाएं शुरू की गई थीं। मौजूदा मोदी सरकार उन योजनाओं को कमजोर कर रही है।

मह‍िला पहलवानों के उत्‍पीड़न पर चर्चा

कांग्रेस ने मानसून सत्र में महिला पलवानों के उत्पीड़न का मुद्दा उठाएगी। इसको लेकर कांग्रेस पार्टी केंद्र सरकार से कई सवाल पूछ सकती है।

अडानी मामले पर JPC की मांग

अडाणी-हिंडनबर्ग मामले की जांच के लिए विपक्ष केंद्र सरकार से जॉइंट पार्लियामेंट्री कमेटी (JPC) की लगातार मांग कर रहा है। 24 जनवरी को अमेरिकी फर्म हिंडनबर्ग रिसर्च ने अडाणी ग्रुप को लेकर एक रिपोर्ट पब्लिश की थी। इस रिपोर्ट में अडाणी ग्रुप पर अकाउंटिंग फ्रॉड और स्टॉक मैनिपुलेशन जैसे कई गंभीर आरोप लगाए गए थे। इसके बाद अडाणी ग्रुप के ज्यादातर स्टॉक 60% से ज्यादा गिर गए थे।

अलग-अलग राज्‍यों के मुद्दे पर चर्चा

कांग्रेस देश के अलग-अलग राज्यों के मुद्दे पर भी चर्चा करेगी।

Read More

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button