POLITICS

“मैंने कोई गलती नहीं की थी…”, लोकसभा में अपना निलंबन रद्दे होने पर अधीर रंजन चौधरी

अधीर रंजन चौधरी का लोकसभा से निलंबन वापिस लिया गया

नई दिल्ली:

कांग्रेस सांसद अधीर रंजन चौधरी अब लोकसभा की कार्यवाही में हिस्सा ले सकेंगे. दरअसल, लोकसभा सचिवालय ने उनके निलंबन को खत्म करने को लेकर बुधवार रात को एक सर्कुलर जारी किया था. NDTV ने निलंबन हटने के बाद कांग्रेस के सांसद अधीर रंजन चौधरी से बात की. इस बातचीत के दौरान चौधरी ने कहा कि मैंने कोई गलती नहीं की थी. इसलिए निलंबन का वापस होना एक समान्य बात है. 

यह भी पढ़ें

चर्चा में आरोप प्रत्यारोप तो लगते ही रहते हैं

निलंबन वापस होने पर अधीर रंजन चौधरी ने कहा कि देखिए मैं शुरू से कह रहा था कि इस तरह का निलंबन बड़ा अजीब सा लगा मुझे. लोकसभा में मैं इतने दिनों से हूं, चर्चा में आरोप प्रत्यारोप तो लगते ही रहते हैं. एक दूसरे पर टीका टिप्पणी तो चलता ही रहता है. यही लोकतंत्र की परपंरा भी है. जब मेरे खिलाफ ये फैसला हुआ तो मुझे उस वक्त भी ताज्जुब हुआ था. मैं आपसे कह देना चाहता मैंने कुछ चूक नहीं की थी, कोई गलती नहीं की थी.

किसी को गलतफहमी हो सकता है यह अलग बात है. कोई भी फैसला देने से पहले ये देखना चाहिए था कि गलती है या नहीं या देखना चाहिए था. फिर भी स्पीकर साहब ने जो फैसला सुनाया मैंने मान लिया था. मैंने उस दिन भी कहा था कि मुझे सजा तो हो गई है लेकिन जवाब देने के लिए क्यों मुझे प्रिविलेज कमेटी जाना पड़ेगा यह मुझे अजीबोगरीब लगा. 

मेरा जो तर्क था वह उनको सही लगा

मैं सबके प्रति आभारी हूं. यह नया नजीर हमारे सदस्यों ने दिखाया है कि जहां सदन की बात होती है वहां सब एक दूसरे का साथी होते हैं. इसमें जो सर्वसम्मति फैसला सुनाया गया. मेरा जो तर्क था वह उनको सही लगा, इसलिए सारी साथियों को जो भी जिस पार्टी का हो वह सट्टा रूट दल का हो या विपक्ष का हो मैं बड़ा शुक्रिया अदा करता हूं. 

उन्होंने कहा कि मैं खेद क्यों जताऊंगा और माफी भी क्यों मांगूंगा मैंने सिर्फ यह कहा किसी को आहत करने का मेरा मकसद नहीं था. खेद जताने का दुख व्यक्त करने का कोई सवाल ही नहीं है, क्योंकि मैंने कोई गलती नहीं किया है. मैंने उस दिन सदन में जो कुछ कहा था मैं उसे पर अभी कायम हूं. जो बात बुरा लगे वह स्पीकर साहब का अधिकार है उसे हटा सकते हैं मैं अपने बात पर बिल्कुल कम हूं मैं कोई गलती नहीं की है. गलत शब्द का इस्तेमाल नहीं किया है. 

Back to top button