POLITICS

बापू के विपरीत काम करने वाली स्थिति का मामला:पुणे की अदालत ने कार्रवाई की,

कलीचरण महाराज की तस्वीर

पुणे की पर्सनल कोर्ट ने अभद्र भाषा के मामले में दैवीय क्रियाकलाप के उच्चीकरण अभिजीत धनंजय को एक दिन की पुलिस में सुपुर्द किया। शांताचरण को रायपुर में एक स्थिति में रखा गया था।

छित्तीसगढ़ में संसद की बैठक की तारीख तय की गई थी। वन में प्‍यूज 13 से पहली बार दैनिक मार्ग से विशेष सुरक्षा के बीच में रखा गया। उस पर रायपुर और पुणे में अन्य कुछ भी केस दर्ज करें। पुलिस अधीक्षक अधीक्षक के अनुसार, पुन: दर्ज करने के लिए प्राथमिकी दर्ज करें आधार पर कार्रवाई करने वाले को जोड़ा गया है। कालेचरण के विपरीत सोशल मीडिया पर नियमित रूप से क्रियान्वित करने की स्थिति में दर्ज किया गया है।

कलीचरण कोजुराहो से रायपुर पुलिस ने तैनात किया था।कालीचरण को खजुराहो से रायपुर पुलिस ने गिरफ्तार किया था।5 दिन से अधिक पुणे पुलिस की टीम खड़क थाने टीम की टीम 5 दिन में जयपुर में ही खराब हुई थी। सुरक्षा कर्मियों को तैनात किया गया था। महाराष्ट्र पुलिस की टीम ने दलाल को रिमांड पर चलने की कोशिश की। ़। मामले में आवेदन किया गया। इसके वन में परिवर्तन करने के क्रम में।

रायपुर महाराष्ट्र तक के लिए I
कलीदाता के काम करने के लिए अधिकारी अधिकारी शहर के अंदर पुलिस वाले को प्रदूषित होने की स्थिति में, इस तरह से रायपुर पुलिस वाले की सुरक्षा करने वाले को शहर की पुलिस ने चार्ज किया था। अब 13 जनवरी के लिए सबसे पहले मध्य प्रदेश के खजुराहो में फिर से पेश किया गया और फिर से चालू किया गया। बताया जा रहा है कि कालीचरण के वकील जमानत के लिए हाईकोर्ट में याचिका दाखिल करने की तैयारी कर रहे हैं।

धर्म सभा में गांधी का मान अकोला महाराष्ट्र के गुणन रायपुर की धर्म सभा में कहा गया था- 1947 में मोहनदास करमचंद गांधी ने हमारे देश का सत्यानाश किया। नमस्ते नाथूराम गोडसे को, दृढता से मार गिराया। कार्यक्रम के मुख्य कार्यकारी अधिकारी और राज्य गोसेवा आयोग के अध्यक्ष महंत रामसुंदर ने इस कार्यक्रम के कार्यकर्ता संगठन को मंच पर रखा। )

Back to top button