POLITICS

प्लेन का अल्ट्रा गेट प्लेयर नशे में धुत यात्री:साथी यात्रियों ने पढ़ा; बटरफ्लाई फ़्लाइट की घटना; 6 महीने में चौथा मामला

अगर टाला6 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक
मीडिया सिद्धांत के अनुसार, यात्री ने नशे की गोलियाँ खाने से पहले उड़ान भरी।  - दैनिक भास्कर

मीडिया सिद्धांत के अनुसार, यात्री ने नशे की गोलियाँ खाने से पहले उड़ान भरी।

असम के विवाद से गुरुवार को त्रिपुरा के अगरतला जा रही इंडिगो फ्लाइट में पैसेंजर ने टेक ऑफ के बाद प्लेन के ग्रैंड गेट को कोठे की कोशिश की। नशे में डूबे यात्रियों को दोस्त यात्रियों ने जैसे ही ऐसा किया देखा तो उन्हें वहां से नशे की सीट पर बिठा दिया।

यात्रियों ने मामले की जानकारी क्रू मेंबर को दी, जिसके बाद उन्होंने यात्रियों को दस्तावेजों की कोशिश की। वह भी बदतमीज़ की। इसके बाद क्रूबर ने ताला एयरपोर्ट पर मामले की याचिका दायर की। फ्लाइट के लैंड होते ही यात्रियों को गिरफ्तार कर लिया गया।

यह अल्ट्रा गेट स्केल की कोशिश करने वाले बिस्वजीत देबनाथ की तस्वीर है।

यह अल्ट्रा गेट स्केल की कोशिश करने वाले बिस्वजीत देबनाथ की तस्वीर है।

यात्री ने नशे की गोलियां खाईं
मीडिया विद्वान के अनुसार, यात्री की पहचान पश्चिम त्रिपुरा जिले के जिरानिया में रहने वाले बिस्वाजीत देबनाथ (41) के रूप में हुई है। उसने बोर्ड बनाने से पहले नशे की गोलियां खाईं। हवाई जहाज़ में अन्य यात्रियों ने बताया कि सुरक्षा जाँच ठीक नहीं लग रही है। हालाँकि उन्होंने ऐसा क्यों किया इसकी जानकारी नहीं है।

एयरलाइन अधिकारी और कानून प्रवर्तन अधिकारी मामले की जांच कर रहे हैं। इंडिगो की उड़ान में 6 महीने तक एक साथ गेट स्केल की कोशिश करने का यह चौथा मामला है।

इंडिगो की उड़ान में पिछली 3 घटनाएँ

20 सितंबर: दिल्ली-चेन्नई उड़ान
फ़्लाइट 6E634 की उड़ान भरते ही एक यात्री को फ़्लाइट गेट झटका लगा। हालाँकि क्रूबर ने उसे ऐसा करने से रोक लिया। फ़्लाइट के होने के बाद उसे एयरपोर्ट अथॉरिटी ने हस्तांतरित कर दिया।

8 जुलाई: हैदराबाद-दिल्ली उड़ान
टेक ऑफ के दौरान एक यात्री ने प्लेन के फ्लैट गेट को ढक दिया था। क्रू मेंबर ने तुरंत उसे वहां से देखकर हटा दिया और कवर कर दिया। क्रू मेंबर ने मामले की याचिका दिल्ली हवाईअड्डे पर दी थी, जिसके बाद फ्लाइट की जमीन पर ही यात्री को न्याय में ले लिया गया था। पूरी खबर पढ़ें…

8 अप्रैल: दिल्ली-बेंगलुरु उड़ान
फ्लाइट में यात्री ने क्वांटम गेट स्केल की कोशिश की थी। यात्री नशे में धुत्त था और क्रू से भी बदसलूकी कर रहा था। क्रू मेम्बर्स ने केस की जानकारी फ्लाइट कैप्टन को दी थी। फ्लाइट के एलायंस में यात्री को सीआईएसएफ द्वारा प्रवेश दिया गया था। उस पर 3 धाराओं में मामला दर्ज हुआ था. पूरी खबर पढ़ें…

गेट असॉल्ट का खतरा
रेजीडेंसी के अनुसार, स्ट्रैटेजी गेट के हैंडल पर एक कवर होता है जो उसे केबिन के दबाव या किसी और वसीयत से सामान से जोड़ता है।

इंडियन एयरलाइंस के पूर्व निदेशक एसएस पनेसर के अनुसार, अगर कवर हटा दिया जाता है, तो हैंडल खुला रहता है। ऐसे में प्लेन की लैंडिग के दौरान क्वांटम गेट खुल सकता है। इससे प्लेन को खतरा हो सकता है।

इंडिगो फ़्लाइट से जुड़ी यह खबर यहां भी पढ़ें…

भाजपा न्यूमेरिक सूर्या ने फ़्लैट का फ़्लैट गेट, फ़्रॉम फ़्लोरेट का लाभ उठाया

10 दिसंबर 2022 को इंडिगो का प्लेन चेन्नई से तिरुचिरापल्ली के लिए रनवे पर खड़ा था। इसी दौरान भाजपा ने परमाणु ऊर्जावान सूर्या ने प्लेन का एक्जालिट गेट खोल दिया था। एयरलाइंस ने उगते सूर्या का नाम बताए बिना बताया कि पैसेंजर ने इस गलती के लिए माफ़ी मांगी थी। सारा आईडिया चेक पूरा करने के बाद ही फ्लाइट ने भरी थी उड़ान। पूरी खबर पढ़ें…

Back to top button