POLITICS

पलवल में कार-ऑटो की टक्कर:4 महिलाओं की मौत, चार साल के बच्चे समेत 11 घायल; लेबनानी में शोक जट घर लौट रहे थे

रिट्रीट को अस्पताल में भर्ती करने के लिए ले जाएं रिज़ॉर्ट।  दम तोड़ के दौरान चार महिलाओं ने किया इलाज।  - दैनिक भास्कर

रिट्रीट को अस्पताल में भर्ती करने के लिए ले जाएं रिज़ॉर्ट। दम तोड़ के दौरान चार महिलाओं ने किया इलाज।

हरियाणा में पलवल-सोहाना मार्ग पर रविवार रात ऑटो और कार की भीषण टक्कर हो गई। जिसमें 4 महिलाओं की मौत हो गई। वहीं 4 साल के बच्चे समेत 11 घायल हो गए। सभी मृतक और घायल नूंह जिले में रहने वाले थे। ऑटो में सवार महिला-पुरुष जिला पलवल के गिरवाड़ी गांव में एक महिला की मौत पर शोक व्यक्त कर वापस अपने गांव लौट रहे थे। गढ़थाना पुलिस ने ऑटो चालक की याचिका पर कार चालक के खिलाफ केस दर्ज कर पुरी के अवशेषों को सोमवार को उनके अवशेषों में दर्ज कर दिया।

ऑटो में 14 लोग सवार थे
गदपुरी थाना प्रभारी राजबीर ने बताया कि नूंह के कालिया गांव निवासी अजय ने याचिका में कहा है कि वह ऑटो ड्राइवर है। 24 सितंबर को कालियाका गांव से शोकसभा लेकर चिरवाड़ी गांव एक शोक कार्यक्रम में आयोजित किया गया था। उनके ऑटो में कालियाका गांव की रहने वाली गुलकंदी (70), रामवती (65), कैलासी (30), गुड़िया (68), गीता (35), राजबाला (35), पुष्पा (26), बबीता (45), हेमा ( 32), सविता (40), ललिता (36), राकेश (25), आईपीएल (48) और प्रवेश (4) घायल हो गए। मृतकों में से गुलकंदी, रामवती, कैलाशी और पेड़ों की दुर्घटना में गंभीर अवशेष लग गए थे। प्राकृतिक उपचार के दौरान मृत्यु हो गई।

दुर्घटना के बाद मकबरे में जमा लोग और शहीद को ज्वालामुखी में ले जाया गया।

दुर्घटना के बाद मकबरे में जमा लोग और शहीद को ज्वालामुखी में ले जाया गया।

हनुमान मंदिर के पास हुआ हादसा
ऑटो में सवार सभी चिरवाड़ी गांव से शोक व्यक्त कर वापस कालियाका गांव जा रहे थे। लेकिन जब ऑटो सोना मार्ग पर घुघेरा गांव से आगे हनुमान के पास पहुंचा, तभी एक स्विफ्ट डिजायर कार चालक ने कार को गफलत में लेकर मंदिर के सामने से सीधी टक्कर मार दी।

टक्कर का समीकरण यह था कि ऑटोके पर्चे उड़ गए और ऑटो में सवार सभी सवारियों को गंभीर नुकसान हुआ, जो टक्कर की वजह से सड़क के किनारे जा गिरा।

अस्पताल में भर्ती की जांच करते डॉक्टर।

अस्पताल में भर्ती की जांच करते डॉक्टर।

कार ड्राइवर हुआ, केस दर्ज
गाड़ी चालक अपनी गाड़ी को छोड़कर भाग गए। सशक्त ने सरकारी अस्पताल में भर्ती करा दिया। आपदा में घायलों को जिलों के अलग-अलग विशिष्ट वर्गों में इलाज के लिए छुट्टी दी जाती है। शैतान में कई की हालतें बनी हुई हैं। गढ़ थाना पुलिस ने ऑटो चालक की शिकायत पर कार के अज्ञात चालक के खिलाफ सोमवार को अंतिम संस्कार के बाद उनके अवशेषों को पुरी में दर्ज कर दिया।

Back to top button