POLITICS

नेपाल से उड़ान भरने के बाद Fly Dubai के प्लेन के इंजन में लगी आग: रिपोर्ट

नेपाल से टेकऑफ के बाद विमान के इंजन में आई खराबी, जांच के बाद दुबई के लिए रवाना

प्रतीकात्मक फोटो.

काठमांडू:

नेपाल की राजधानी काठमांडू में फ्लाई दुबई के एक विमान के इंजन में टेकऑफ के बाद खराबी आ गई. करीब 150 लोगों के साथ इस विमान ने त्रिभुवन अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डे से उड़ान भरी थी. इंजन में खराबी की सूचना मिलते ही विमान वापस लौट आया. पायलटों ने बाद में कंट्रोल टावर से कहा कि सभी संकेतक सामान्य होने का पता चलने के बाद वे आगे बढ़ेंगे. जांच के बाद बाद में विमान को दुबई के लिए रवाना कर दिया गया. विमान में 50 नेपाली यात्रियों सहित 150 से अधिक लोग सवार हैं.

यह भी पढ़ें

फ्लाई दुबई एयरलाइंस के प्रवक्ता ने बताया कि काठमांडू से दुबई जाने वाली फ्लाई दुबई फ्लाइट 576 के इंजन में खराबी की खबरें सामने आई है. काठमांडू से उड़ान भरने के दौरान एक पक्षी विमान से टकरा गया. इसके बाद मानक प्रक्रिया का पालन किया गया और दुबई के लिए उड़ान सामान्य रूप से जारी रखी गई. विमान स्थानीय समयानुसार 00:14 बजे दुबई पहुंचेगा.

विमान एफजेड576 ने एयरपोर्ट से रात 9:21 बजे उड़ान भरी थी. रात करीब नौ बजकर 25 मिनट पर विमान के एक इंजन में लपटें देखी गईं थीं। इस दौरान कोटेश्वर, इमाडोल और पाटन इलाकों में धमाके जैसी आवाज भी सुनाई दी थी. कुछ प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार विमान में आग भी देखी गई थी.

इसके बाद विमान ने त्रिभुवन अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे से संपर्क किया और आपातकालीन लैंडिंग के लिए इजाजत मांगी. सिग्नल मिलते ही विमान को लैंड कराने के प्रयास शुरू कर दिए गए. कुछ ही देर बाद पायलटों ने एयरपोर्ट से संपर्क किया और बताया कि विमान पर सभी सिस्टम ठीक काम कर रहे हैं और वे विमान को दुबई की ओर ले जा रहे हैं.
 

जनवरी में यति एयरलाइंस का प्लेन हुआ था क्रैश
इससे पहले जनवरी में नेपाल में बड़ा विमान हादसा हुआ था. यति एयरलाइंस का प्लेन काठमांडू से 205 किमी दूर पोखरा में क्रैश हो गया था. यह ATR-72 प्लेन था, जिसमें 68 यात्री और चार क्रू मेंबर सवार थे. पोखरा अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट पर लैंडिंग से महज 10 सेकेंड पहले विमान पहाड़ी से टकरा गया. इससे प्लेन में आग लग गई और वह खाई में जा गिरा. विमान के मलबे से 68 शव निकाले जा चुके हैं. हालांकि चश्मदीदों का कहना है कि हादसे में कोई भी जिंदा नहीं बचा. विमान में पांच भारतीय यात्री भी सवार थे. घटनास्थल से दो लोगों को जीवित निकाला गया, दोनों मछुआरे थे.

ये भी पढ़ें:-

नहीं बन सका इंजीनियर, तो जुगाड़ से घर पर ही बना डाला लड़ाकू विमान! 300 फीट तक भरता है उड़ान

47 साल बाद सामने आई प्लेन क्रैश की वजह, दुर्घटना में हुई थी कई नेताओं की मौत

Back to top button