POLITICS

दिसंबर में अल्पसंख्यक मैत्री संवाद सहयोगी दल भाजपा ने शुरू किया: सभी 543 निर्वाचन क्षेत्रों में अल्पसंख्यकों से जुड़ेंगे कार्यकर्ता; पद्मश्री स्पोर्ट्स प्रोग्राम का हिस्सा

  • हिंदी समाचार
  • राष्ट्रीय
  • भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा सभी धर्मों के अल्पसंख्यकों तक पहुंचने के लिए दिसंबर में अल्पसंख्यक स्नेह संवाद अभियान शुरू करेंगे

नई दिल्ली3 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

2024 के चुनाव से पहले अल्पसंख्यक समुदाय को साधने के लिए भाजपा ने अल्पसंख्यक भाईचारा संवाद शुरू करने का निर्णय लिया है। इस योजना के तहत देश के सभी 543 मतदाता निर्वाचन क्षेत्रों में मुस्लिम, सिख, ईसाई, जैन सहित सभी अल्पसंख्यक समुदायों से जुड़ने की कोशिश की जाएगी।

भाजपा अल्पसंख्यक मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जमाल शेखावत ने बताया कि एक महीने तक चलने वाले स्पेन की शुरुआत इस साल के अंत में दिल्ली के दिग्गज चौक से होगी। पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जापान के राष्ट्रीय अध्यक्ष इस बार का उद्घाटन करेंगे। कार्यक्रम में 2000 लोगों के शामिल होने की उम्मीद है।

पद्मश्री पुरस्कार विजेता इस कंपनी का हिस्सा है
शेख़ ने बताया कि शाह रशीद अहमद कादरी पद्मश्री पुरस्कार विजेता की तरह इस कार्यक्रम में हिस्सा लेंगे। पद्मश्री कार्ड पाने वाले लोगों के अलावा डॉक्टर, इंजीनियर, साधक सहित कई अन्य प्रोफेशन वाले मोदी मित्र भी इस कार्यक्रम में शामिल हो सकते हैं। बख्तरबंद ने बताया कि हर इलेक्ट्रॉनिक्स इलेक्ट्रॉनिक्स क्षेत्र में 5000 मोदी मित्र हैं।

4 अप्रैल को राष्ट्रपति भवन में 53वें स्नातक को पद्म पुरस्कारों से सम्मानित किया गया। पुरस्कार पाने वालों में बिदरी के शिल्पकार शाह रशीद कला अहमद कादरी भी शामिल थे।

4 अप्रैल को राष्ट्रपति भवन में 53वें स्नातक को पद्म पुरस्कारों से सम्मानित किया गया। पुरस्कार पाने वालों में बिदरी के शिल्पकार शाह रशीद कला अहमद कादरी भी शामिल थे।

पूरे देश में पांच राज्यों के चुनाव बाद में शुरू होंगे
रांची ने बताया कि मध्य प्रदेश, राजस्थान, छत्तीसगढ़, तेलंगाना और मिजोरम में विधानसभा चुनाव के नतीजे आने के बाद ही ये कार्यक्रम शुरू होगा। कार्यक्रम एक महीने तक जारी। इस दौरान पीएम मोदी ने राष्ट्रीय स्तर की बैठक की। इस कार्यक्रम के माध्यम से अल्पसंख्यक समुदाय के मोदी मित्रों और केंद्र सरकार की योजनाओं का लाभ उठाने वाली अल्पसंख्यक समुदाय की महिलाओं से संपर्क किया जाएगा।

‘विकसित भारत संकल्प यात्रा’ के बाद निकाली गई सरकार
केंद्र सरकार दीपावली के बाद देश भर में ‘विकसित भारत संकल्प’ यात्रा निकालेगी। यह यात्रा देश की 2.7 ग्राम लाख करोड़ रुपये में होगी। कांग्रेस के नेता पवन प्रशांत ने इसे लेकर सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म ‘एक्स’ पर एक पत्र शेयर करते हुए सवाल उठाया है।

इस पत्र में लिखा है कि केंद्र सरकार 9 वर्षों की उपलब्धियों के लिए विकसित भारत संकल्प यात्रा करेगी। इसके कंसल्टेंसी, इलेक्ट्रॉनिक्स और इलेक्ट्रॉनिक्स के लिए जॉइंट कंसल्टेंट, डायरेक्टर और डिप्टी डिप्टी लेवल के अधिकारियों को रथ प्रभारी बनाया गया।

पवन एसोसिएट ने इसका विरोध करते हुए कहा कि सिविल सेवकों को पॉलिटिकल प्रोपेगैंडा करने का ऑर्डर कैसे दिया जा सकता है। वहीं, राकेश राकेश ने कहा कि यह पीएम मोदी का एक और विनम्र आदेश है। पूरी खबर यहां पढ़ें…

ये खबरें भी पढ़ें…

पद्मश्री धारक पीएम ने मुझे गलत साबित किया: दिल्ली से फोन आया तो खुशी के मारे कई दिन सोया ही नहीं

4 अप्रैल 2023, राष्ट्रपति भवन में पद्मश्री महोत्सव के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी हम सभी से हाथ मिला रहे थे। जब वे मेरे पास आये, तो मैंने कहा- प्रधानमंत्री जी, मैं पांच साल से लगातार आवेदन कर रहा था। आपकी सरकार आई तो मैंने आवेदन बंद कर दिया। मुझे लगा मुस्लिम हूं, आपकी सरकार में मुझे पद्मश्री मिल सकता है, लेकिन आपने मुझे गलत साबित नहीं किया।​पूरी खबर यहां पढ़ें…

सेना से सरकारी मंजूरी का प्रचार-प्रसार का मामला: रक्षा मंत्रालय ने 9 शहरों में सेलीब प्वाइंट बनाने को कहा; बोली कांग्रेस- ये शर्मनाक

सरकार ने जनता के बीच ले जाने वाले काम में शामिल होने के लिए नारी संप्रदाय, तेजस्वी, आत्मनिर्भर और सक्षम भारत जैसी आकांक्षाओं को शामिल करने की योजना बनाई है। इसे लेकर रक्षा मंत्रालय ने थालसेना, नौसेना और नौसेना के अलावा डीआरडीओ और बीआरओ को 9 शहरों में सेल्स प्वाइंट बनाने को कहा है।

इसे लेकर कांग्रेस ने सरकार पर आधारित सार तैयार किया है। कांग्रेस ने भास्कर की एक्सक्लूसिव रिपोर्ट शेयर करते हुए ट्वीट किया कि मोदी सरकार सेना का राजनीतिकरण करने से भी बाज नहीं आई। अब देश की सेना से अपनी उम्मीदवारी का प्रचार करोगे। यह शर्मनाक है। पूरी खबर यहां पढ़ें…

Back to top button