POLITICS

दिल्ली में मोहर्रम के जुलूस के दौरान हुआ पथराव, पुलिसकर्मियों को लगी चोट, गाड़ियों के शीशे टूटे

दिल्ली में मोहर्रम के जुलूस के दौरान हुआ पथराव, पुलिसकर्मियों को लगी चोट, गाड़ियों के शीशे टूटे

दिल्ली के नांगलोई इलाके में मोहर्रम के जुलूस के दौरान हिंसा हुई है। पथराव किया गया है और उस वजह से कई गाड़ियों के शीशे भी टूट गए।

नई दिल्ली

Updated:

MUHARRAM VIOLENCE
मुहर्रम जुलूस के दौरान हिंसा (फोटो- सोशल मीडिया)

दिल्ली के नांगलोई इलाके में मोहर्रम के जुलूस के दौरान हिंसा हुई है। पथराव किया गया है और उस वजह से कई गाड़ियों के शीशे भी टूट गए। बताया जा रहा है कि मोहर्रम के मौके पर ताजिया निकाला जा रहा था। तभी जुलूस में शामिल लोग सूरजमल स्टेडियम के अंदर जाना चाहते थे। लेकिन पुलिस का साफ कहना था कि रूट पहले से तैयार था, ऐसे में कोई भी स्टेडियम के अंदर नहीं जा सकता। इसी वजह से नाराजगी बढ़ गई और फिर कुछ लोगों ने पथराव कर दिया।

जानिए क्यों हुआ पथराव

उस पथराव में कुछ पुलिसकर्मियों की हल्की चोट आई है, वहां खड़ीं कई गाड़ियों के शीशे भी टूट गए हैं। पुलिस का कहना है कि मौके पर भारी पुलिस फोर्स पहले से तैनात थी, ऐसे में कुछ देर में स्थिति को कंट्रोल में कर लिया गया। वैसे इस घटना के कई वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गए हैं। उन वीडियो में एक तरफ पथराव करते कई युवक दिख रहे हैं, कुछ तो तलवारें भी लहरा रहे हैं। दूसरी तरफ पुलिसकर्मी भी बल प्रयोग के जरिए उन युवाओं को खदेड़ने की कोशिश में लगे हैं।

वायरल वीडियो में बस के टूटे शीशे भी दिखाई दे रहे हैं, अंदर मौजूद यात्रियों का खौफ भी साफ दिख रहा है। अभी के लिए पुलिस का सिर्फ इतना कहना है कि आरोपियों के खिलाफ सख्त से सख्त एक्शन लिया जाएगा। वैसे एक तरफ दिल्ली में जुलूस के दौरान हिंसा हुई है तो वहीं झारखंड में तो चार लोगों की दर्दनाक मौत हो गई।

झारखंड में दर्दनाक हादसा

असल में झारखंड के खेतको गांव में जब जुलूस निकालने की तैयारी चल रही थी, तब ताजिया एक हाईटेंश लाइन के संपर्क में आ गया। उस वजह से चार लोगों की मौके पर ही मौत हो गई और 10 गंभीर रूप से घायल हो गए। घायलों को पास के ही एक अस्पताल में भर्ती करवा दिया गया था जहां पर उनका इलाज अभी भी जारी है।

First published on: 29-07-2023 at 22:38 IST

Read More

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button