POLITICS

जेडीएस पार्टी को नाम से हटाया जाना चाहिए सेक मोदी:एनडीए में शामिल होने के बाद प्रियांक खड़गे का तंज, बोले

नई दिल्ली4 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

कर्नाटक की जनतांत्रिक गठबंधन (जेडीएस) पार्टी आधिकारिक तौर पर राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (एनडीए) में शामिल हो गई है। 22 सितंबर को जेडीएस के वरिष्ठ नेता और कर्नाटक के पूर्व सीएम एचडी कुमारस्वामी ने केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह से मुलाकात के बाद यह घोषणा की।

कर्नाटक के मंत्री और कांग्रेस नेता प्रियांक खड़गे ने जेडीएस पर तंज कसते हुए यह गठबंधन बनाया है। प्रियांक ने कहा- जेडीएस को चुनाव आयोग को पत्र लिखना चाहिए और अपनी पार्टी के नाम से ‘सेकेंड असोसिएट’ शब्द हटाना चाहिए। क्योंकि एक समय आप स्वतंत्रता का दावा कर रहे हैं, और उसी समय आप स्वतंत्र भारत के इतिहास की सबसे सांप्रदायिक पार्टी से हाथ मिला रहे हैं।

राज्य में बीजेपी जेडीएस की ‘बी’ टीम बनी
प्रियंक ने आगे कहा- इसमें कोई आश्चर्य की बात नहीं है क्योंकि अगर आप देखें कि कर्नाटक में चुनाव हारने के बाद भाजपा के केंद्रीय नेतृत्व ने राज्य पर अपना भरोसा खो दिया है। इससे स्पष्ट होता है कि जेडीएस उनकी पहली पसंद है और राज्य बीजेपी में जेडीएस की ‘बी’ टीम बनी है।

इस गठबंधन का आने वाले चुनाव में क्या असर दिखता है। समकालीन लेकर प्रियांक बोले- कत्थई वे कितने भाईचारे, इससे कनक की किस्मत पर कोई असर नहीं होता। राज्य में लोकसभा चुनाव कांग्रेस पार्टी जीतेगी।

कर्नाटक के पूर्व मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी ने शुक्रवार को नई दिल्ली में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह से मुलाकात की।

कर्नाटक के पूर्व मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी ने शुक्रवार को नई दिल्ली में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह से मुलाकात की।

बीजेपी अध्यक्ष ने जेडीएस का स्वागत किया
भाजपा अध्यक्ष होने के नाते नारायण नंदा ने जेडीएस को एनडीए गठबंधन में शामिल करने पर जाहिर तौर पर खुशी जाहिर की है। ऑवर्स ने एक्स (ट्विटर) पर पोस्ट में कहा- मुझे खुशी है कि जेडीएस ने एनडीए का हिस्सा बनने का फैसला किया है। हम एनडीए में उनका तहे दिल से स्वागत करते हैं। इससे एनडीए और प्रधानमंत्री के विजन ‘न्यू इंडिया, स्ट्रॉन्ग इंडिया’ को और आवासीय सुविधाएं मिलेंगी।

येदियुरप्पा ने कहा- जेडीएस बीजेपी के साथ मिलकर लड़ेगी
इसके पहले कर्नाटक के पूर्व प्रत्याशी और भाजपा नेता बीएस येदियुरप्पा ने 8 सितंबर को बताया था कि जेडीएस चुनाव भाजपा के साथ मिलकर प्रत्याशी बनेंगे। उन्होंने बताया कि अमित शाह (जेडीएस) को कॉम के 4 प्रवेश द्वार पर मंजूरी दे दी गई है। हालाँकि, पहले जेडीएस कर्नाटक की 28 पार्टी में से पाँचवीं यात्रा माँग रही थी।

मीडिया सिद्धांत के मुताबिक, पूर्व प्रधानमंत्री और जेडीएस सुप्रीमो एचडी देवेगौड़ा ने अपने पहले अमित शाह और बीजेपी अध्यक्ष जापान के राष्ट्रपति से मुलाकात की। इसमें दोनों के साथ एक पर सहमति बनी थी। जेडीएस कर्नाटक की मांड्या, हासन, बेंगलुरु (ग्रामीण) और चिकबल्लापुर सीट पर चुनाव साथी चाहते हैं। अभी तक यह बात सामने नहीं आई है कि बीजेपी जेडीएस को कौन सी फिल्म देखने का मौका मिला है।

जेडीएस नेता प्रज्वल ने 2019 के लोकसभा चुनाव में बीजेपी उम्मीदवार अर्कलागुडु को हसन सीट से हराया था।

जेडीएस नेता प्रज्वल ने 2019 के लोकसभा चुनाव में बीजेपी उम्मीदवार अर्कलागुडु को हसन सीट से हराया था।

पिछले चुनाव में सिर्फ हसन सीट पर जेडीएस के उम्मीदवार थे
अगर साल 2019 के आम चुनाव के आंकड़ों पर नजर डालें तो जेडीएस सिर्फ हसन सीट पर जीत पाई थी। जबकि मांड्या, बेंगलुरु (ग्रामीण) और चिकबल्लापुर पार्टी में बीजेपी ने जीत दर्ज की थी।

हसन से पूर्व प्रधानमंत्री एच.डी. देवेगौड़ा के पद पर प्रज्वल रेवन्ना ने चुनाव जीता था, लेकिन 1 सितंबर को कर्नाटक उच्च न्यायालय ने अपना नामांकन रद्द कर दिया था। कोर्ट ने कहा कि उन्होंने 2019 के लोकसभा चुनाव में इलेक्शन कमीशन को हाफनामे में गलत जानकारी दी थी। उन्होंने अपने 24 करोड़ से ज्यादा की कमाई छुपाई थी। प्रज्वल वर्ष 2019 के आम चुनाव में जीतने वाले पार्टी के इकलौते न्यूनतम थे।

हसन का नामांकन रद्द होने के बाद अब जेडीएस में कोई नामांकन नहीं है। पिछले चुनाव में जेडीएस को 9.67% वोट मिले थे। वहीं, विधानसभा चुनाव में जेडीएस को 19 वोट मिले और पार्टी को 13.29% वोट मिले।

ये खबर भी पढ़ें…

बीजेपी कम्युनिस्ट पार्टी ने अपने सांसद बिधूड़ी को नोटिस दिया

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने 22 सितंबर की शाम को बीएसपी के न्यूनतम कुँवर दानिश अली से उनके आवास पर मुलाकात की। इस दौरान राहुल ने दानिश अली को गले लगाया। उन्होंने इसकी फोटो एक्स (जो पहले पोस्ट की थी) पर शेयर की। मिर्ज़ा में लिखा- ‘नफ़रत के बाज़ार में मोहोब्बत की दुकान’। इस मुलाकात के दौरान राहुल के साथ कांग्रेस नेता केसी वेणुगोपाल भी मौजूद रहे पढ़ें पूरी खबर…

Back to top button