POLITICS

जम्मू-कश्मीर में राष्ट्रगान के दौरान खड़े नहीं हुए 14 लोग:गिरफ्तार किए गए; जिम्मेदार पुलिसकर्मियों पर भी हुई कार्रवाई

श्रीनगर2 महीने पहले

  • कॉपी लिंक
ये 14 लोग एक सरकारी कार्यक्रम में राष्ट्रगान बजने के दौरान खड़े नहीं हुए थे। इस कार्यक्रम में जम्मू-कश्मीर के उपराज्यपाल मनोज सिन्हा भी शामिल हुए थे। - Dainik Bhaskar

ये 14 लोग एक सरकारी कार्यक्रम में राष्ट्रगान बजने के दौरान खड़े नहीं हुए थे। इस कार्यक्रम में जम्मू-कश्मीर के उपराज्यपाल मनोज सिन्हा भी शामिल हुए थे।

जम्मू-कश्मीर के श्रीनगर में राष्ट्रगान बजने के दौरान खड़े न होने वाले 14 लोगों को पुलिस ने गिरफ्तार किया गया है। प्रशासन ने कई पुलिसकर्मियों को भी सस्पेंड किया है। इन पुलिसकर्मियों की जिम्मेदारी थी कि नेशनल एंथम बजने के दौरान हरेक शख्स उसके सम्मान में खड़ा हो।

मामला 25 जून को हुए ‘पैडल फॉर पीस’ साइक्लिंग रेस के समापन समारोह का है। यह कार्यक्रम जम्मू-कश्मीर पुलिस ने करवाया था और इसमें उपराज्यपाल मनोज सिन्हा और DGP दिलबाग सिंह भी शामिल हुए थे।

तस्वीर 'पैडल फॉर पीस' साइक्लिंग रेस की अवॉर्ड सेरेमनी की है। उपराज्यपाल मनोज सिन्हा विनर को सम्मानित कर रहे हैं।

तस्वीर ‘पैडल फॉर पीस’ साइक्लिंग रेस की अवॉर्ड सेरेमनी की है। उपराज्यपाल मनोज सिन्हा विनर को सम्मानित कर रहे हैं।

सेक्शन 107 और 151 के तहत किया गया गिरफ्तार
कार्यक्रम में जब नेशनल एंथम बजाया गया तो कई लोग जान-बूझकर इसके सम्मान में खड़े नहीं हुए। जम्मू-कश्मीर प्रशासन ने राष्ट्रगान के अपमान को गंभीरता से लेते हुए मामले की जांच के आदेश दिए।

पुलिस के मुताबिक, 14 लोगों को सेक्शन 107 और 151 के तहत गिरफ्तार किया गया है। ये दोनों सेक्शन पुलिस को अपराध होने की आशंका में लोगों को हिरासत में लेने या गिरफ्तार करने का अधिकार देते हैं। गिरफ्तार किए गए सभी लोगों को सेंट्रल जेल में भेजा गया है।

अवॉर्ड सेरेमनी में एक बच्चे को साइकिल का इनाम देते उपराज्यपाल मनोज सिन्हा।

अवॉर्ड सेरेमनी में एक बच्चे को साइकिल का इनाम देते उपराज्यपाल मनोज सिन्हा।

पैडल फॉर पीस रेस में शामिल हुए थे 2557 साइक्लिस्ट
पैडल फॉर पीस रेस में 8 कैटेगरी में 2557 साइक्लिस्ट शामिल हुए थे। उपराज्यपाल इसकी अवॉर्ड सेरेमनी में शामिल हुए थे। उन्होंने विजेताओं को मेडल पहनाकर सम्मानित किया और प्राइज भी दिया। सभी विजेताओं को कुल 7 लाख रुपए इनाम में दिए गए।

कार्यक्रम में उन्होंने जम्मू-कश्मीर पुलिस की तारीफ भी की। उन्होंने कहा कि पुलिस युवाओं को प्रोत्साहित कर रही है और उनके लिए सिविक एक्शन प्रोग्राम चला रही है।


Read More

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button