POLITICS

गुड़गांव में प्रेमी जोड़े ने फंदा लगाया सुसाइड की:बिजली पोल पर लटके मिले, नाबालिग लड़के के बच्चे के पिता, लड़की ब्रह्मचारी, एक ही कंपनी में थे

गुड़गांव में प्रेमी जोड़े ने फंदा लगाया आत्महत्या की:बिजली पोल पर लटके मिले, नाबालिग बच्चे के पिता, लड़की ब्रह्मचारी, एक ही कंपनी में थे

गुड़गांव9 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक
एक ही रोबोट पर लटकते मिले दोनों।  - दैनिक भास्कर

एक ही रोबोट पर लटकते मिले दोनों।

हरियाणा में गुड़गांव के सोना बाग स्थित अरावली के जंगल में बिजली की हाईटेंशन लाइन के पोल पर एक युवक और युवती के शव पर लटकी हुई मिली है। दोनों एक साथ काम कर रहे थे और पिछले 3 दिनों से लापता थे। घटना स्थल पर एक बाइक भी बरामद हुई है। सदर पुलिस ने दोनों के शवों को कब्जे में लेकर कार्रवाई शुरू कर दी है।

मिली जानकारी के अनुसार, नूंह जिले के गांव जावा की रहने वाली अंजू (22) आपकी नूंह जिले के गांव निबोथ में रहती है। अंजू पास में ही एक कंपनी में काम करती थी। इसी कंपनी में नूंह जिले के गांव कोट निवासी रोहित भी काम करता था। दोनों 4 अक्टूबर को अचानक लापता हो गए थे। अंजू के लापता पर एंजेल ने अपने गुम्बशुदगी की रिपोर्ट निबोथ ऑफिस में दर्ज कराई थी।

जंगल में झूलते पर झूलते दोनों
शनिवार दोपहर बाद सोना सदर थाना पुलिस को सूचना मिली कि अरावली के घने जंगल से गुजर रही बिजली की हाइटेंशन लाइन के पोल पर एक युवक और युवती के शव को फांसी दी गई है। असल में, आसपास काफी दुर्गंध फैल रही थी, जिसके बाद किसी ने पास के व्यापारी को देखा तो दोनों के शव लटके हुए थे। ये देख उसने पुलिस को सूचित किया। मौसिकी पर तैनात सदर पुलिस ने दोनों के शवों को नीचे उतारा।

मॉइसोपर पुलिस और खंभे से लटक रहे थे दोनों के शव।

मॉइसोपर पुलिस और खंभे से लटक रहे थे दोनों के शव।

पास में बाइक स्टॉक मिली
बता दें कि जिस शख्स के साथ दोनों लटके हुए थे, वो बिल्कुल नई बताई जा रही है। पुलिस ने जांच की तो दोनों की पहचान अंजू और रोहित के रूप में हुई। पास में ही एक बाइक का स्टॉक मिला है। बताया जा रहा है कि ये बाइक भी रोहित की है। सदर पुलिस ने दोनों के शवों को नाले से नीचे उतारकर मेडिकल कॉलेज में स्थित मेडिकल कॉलेज में शव के लिए भेज दिया है।

शव के पास काफी दुर्गंध के कारण अनुमान लगाया जा रहा है कि दोनों की मौत दो-तीन दिन पहले हुई है। साथ ही अभी ये भी साफ़ नहीं हुआ कि दोनों ने आत्महत्या की या फिर उनकी हत्या कर शव को फाँसी दी गई। सदर पुलिस मामले में पूरे मामले की जांच की जा रही है.

Back to top button