POLITICS

क्लार्क ने दोस्त को मारा, कहा

तस्वीर असली अनीस की है।  28 अगस्त को अनीस ने महेश के सिर में पैनासोनिक की हत्या की थी।  - दैनिक भास्कर

तस्वीर असली अनीस की है। 28 अगस्त को अनीस ने महेश के सिर में पैनासोनिक की हत्या की थी।

दिल्ली में सर्वे ऑफ इंडिया के सीनियर सर्वेयर महेश कुमार की हत्या उसी ऑफिस के क्लर्क अनीस ने की थी। जालसाजी के बाद अनीस ने बताई इस पूरी घटना के पीछे की असली वजह। अनीस के मुताबिक, महेश और मैं काफी अच्छे दोस्त थे। महेश ने अनीस से 9 लाख रुपये का उधार लिया था। उधार के लिए कीमती सामान को वापस नहीं किया जा रहा था।

यही नहीं, ऑफिस में काम करने वाली एक लड़की अनीस की नौकरी थी। अनीस के मुताबिक, महेश बार-बार ड्राइवर्स पर बुरी नज़र रखते थे। इसी वजह से मैंने महेश की हत्या कर दी।

फ्लैट में बुलाया, विवाद हुआ तो मार दिया

पुलिस के मुताबिक, 28 अगस्त को अनीस ने महेश को अपने निवास स्थान पुरम में बुलाया था। फ्लैट में बातचीत के दौरान दोनों में विवाद हो गया। इसके बाद अनीस ने अंतिम संस्कार में महेश के सिर पर हमला बोलकर उसकी हत्या कर दी।

24 दिन पहले तक अनीस पुलिस को अनारक्षित किया जा रहा था। इसके बाद 20 सितंबर को अनीस के सरकारी क्वार्टर के पास से महेश का शव पुलिस ने बरामद किया था।

अनीस ने महेश के शव को 28 अगस्त से 20 सितंबर तक हाउसकंपाउंड में रखा।

अनीस ने महेश के शव को 28 अगस्त से 20 सितंबर तक हाउसकंपनी में रखा।

निष्कर्ष द्वारा दिया गया घटना को अंजाम
पुलिस के मुताबिक, अनीस ने मोरक्को का पूरा रोडमैप बनाया था. सबसे पहले अनीस ने मार्केट से 6 फीट की पॉलीथिन, फावड़ा और प्लांट कसने वाला पैन खरीदा। इसके बाद 28 अगस्त की दोपहर 12 बजे के करीब अनीस ने महेश को अपने अपार्टमेंट अपार्टमेंट पुरम सेक्टर-2 पर बुलाया। फ्लैट में आने के बाद दोनों के बीच हुआ विवाद अनीस ने पना से महेश के सिर पर वार किया। इसमें महेश की दर्दनाक मौत हो गई।

घटना के बाद अनीस ने अपना फ्लैट बंद करके खुद को घर पर फिर से फोन किया और महेश को अपने साथ मकान मालिक की ओर ले गया। कई स्थानों पर यात्रा के बाद अपने घर पहुंचें।

अगले दिन यानी 29 अगस्त को अनीस रेचल पुरम में वापसी। यहां पुलिस के डॉक्टर अनीस ने महेश की मौत को उनके घर से दूसरे मकान में शिफ्ट कर दिया। फिर देर रात जमीन में 1.5 फीट का खोदकर महेश के शव को दफना दिया गया। रिश्ते को अंतिम से कवर कर दिया। पुलिस ने 2 सितंबर को इसी जगह से मृतक की बरामदगी की।

यह भी पढ़ें…

दिल्ली में नाबालिग लड़की की सड़क पर हत्या, नाबालिग गिरफ़्तारी:बॉडी पर चाकू के 16 ज़ख्म मिले

दिल्ली में लड़की के चाकू से गोदकर हत्या करने वाला साहिल (20) पकड़ा गया। पुलिस ने उसे लाठीचार्ज से गिरफ्तार कर लिया। साहिल के मकान मालिक ने बताया कि उसके पिता का नाम सरफराज है और वह 2 साल से अपने परिवार के साथ बार की जैन कलि में रह रही थी। पूरी खबर पढ़ें…

Back to top button