POLITICS

कांग्रेस अध्यक्ष खड़गे ने बुलाई विपक्षी दलों की बैठक:18 सितंबर से होने वाले संसद के विशेष सत्र को लेकर बनाई जाएगी स्ट्रैटजी

नई दिल्ली6 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे ने 5 सितंबर को विपक्षी गठबंधन I.N.D.I.A के सांसदों की बैठक बुलाई है। बैठक में विपक्षी दल 18 से 22 सितंबर तक होने वाले संसद के विशेष सत्र के लिए अपनी रणनीति तय करेंगे। बैठक में विपक्ष के लोकसभा और राज्यसभा सदस्यों को बुलाया गया है।

कांग्रेस महासचिव के सी वेणुगोपाल ने कहा कि पार्टी अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे ने समान विचारधारा वाले विपक्षी दलों के सांसदों की बैठक बुलाई है। बैठक में आगामी सत्र के एजेंडे पर चर्चा की जाएगी।

खड़गे से मिले राहुल, संगठन के मामले में बात की

कांग्रेस सांसद राहुल गांधी रविवार को खड़गे से मिलने उनके घर पहुंचे।

कांग्रेस सांसद राहुल गांधी रविवार को खड़गे से मिलने उनके घर पहुंचे।

इसके पहले रविवार को कांग्रेस सांसद राहुल गांधी ने खड़गे से मुलाकात की। दोनों के बीच पार्टी के संगठनात्मक मुद्दों और राजनीतिक स्थिति पर बात हुई।

सरकार ने 18 से 22 सितंबर तक संसद का विशेष सत्र बुलाया
केंद्रीय संसदीय मंत्री प्रह्लाद जोशी ने गुरुवार को X (टि्वटर) पर पोस्ट में जानकारी दी थी कि सरकार ने 18 से 22 सितंबर तक संसद का विशेष सत्र बुलाया है।उन्होंने कहा कि संसद का विशेष सत्र (17वीं लोकसभा का 13वां सत्र और राज्यसभा के 261वां सत्र) में पांच बैठकें होंगी। संसद के इस विशेष सत्र के एजेंडे के बारे में अभी कुछ भी नहीं कहा गया है।

ममता और नीतीश ने समय से पहले चुनाव की बात कही थी
कुछ दिन पहले ही विपक्ष की तरफ से ऐसे दावे किए गए हैं कि मोदी सरकार इस बार आम चुनाव समय से पहले करा सकती है। पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी और बिहार के सीएम नीतीश कुमार ने कहा है कि सरकार लोकसभा चुनाव समय से पहले भी करवा सकती है।

विपक्षी गठबंधन एक-दूसरे के साथ मिलकर काम कर रहा है और 2024 के लोकसभा चुनावों के साथ-साथ विभिन्न मोर्चों पर एकजुट होकर भाजपा से मुकाबला करने की योजना बना रहा है। संसद के हालिया मानसून सत्र के दौरान भी विपक्ष एकजुट रहा।

वन नेशन, वन इलेक्शन’ कमेटी में नहीं हैं खड़गे
केंद्र सरकार ने ‘वन नेशन, वन इलेक्शन’ के लिए 8 सदस्यीय समिति बनाई है। पूर्व राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद को इसका अध्यक्ष बनाया गया था।केंद्रीय ग्रहमंत्री अमित शाह, कांग्रेस नेता अधीर रंजन चौधरी, पूर्व कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद को कमेटी में शामिल किया गया है। समिति में कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे का नाम शामिल नहीं है। इस पर कांग्रेस के साथ-साथ विपक्ष के कई नताओं ने भी नाराजगी जाहिर की है। इसके बाद कांग्रेस नेता अधीर रंजन चौधरी ने भी इस समिति का हिस्सा बनने से इनकार कर दिया था।

Back to top button