POLITICS

ओडिशा के संबलपुर में हिंसा के बाद वायरल:युवक की हत्या के बाद जलाए गए थे सेनेटाइजर, दो दिन के लिए इंटरनेट बंद

ओडिशा के संबलपुर में हिंसा के बाद में प्रसारित:युवक की हत्या के बाद जलाए गए थे सीमित, दो दिन के लिए इंटरनेट बंद

संबलपुर5 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक
कल रात संबलपुर में हनुमान जंयती की शोभा यात्रा से लौट रहे एक व्यक्ति की चाकू से गोदकर हत्या कर दी गई थी। इसके बाद हिंसा शुरू हो गई थी। - दैनिक भास्कर

कल रात संबलपुर में हनुमान जंयती की शोभा यात्रा से लौट रहे एक व्यक्ति की चाकू से गोदकर हत्या कर दी गई थी। इसके बाद हिंसा शुरू हो गई थी।

ओडिशा के संबलपुर जिले में शुक्रवार को हनुमान जंयती की शोभायात्रा के बाद हिंसा हो गई। इसके बाद शनिवार को वायरल हो गया और इंटरनेट सेवा भी बंद कर दी गई।

कल रात संबलपुर में हनुमान जंयती की शोभा यात्रा से लौट रहे एक व्यक्ति की चाकू से गोदकर हत्या कर दी गई थी। इसके बाद लोगों ने कई दुकानों में फोड़-फोड़ की और आग लगा दी। हालांकि, अब पुलिस ने स्थिति पर दांव लगाया है।

हत्या से पहले हुई थी किसी से बहस
पुलिस ने बताया है कि चंद्र मिर्धा नाम का एक युवक अपने दोस्तों के साथ लौट रहा था। इस दौरान उनकी किसी से बहस हुई, जिसके बाद युवक की हत्या कर दी गई। पुलिस हत्या के पीछे की वजह पता लगाने और दोषियों को पकड़ने का प्रयास कर रही है।

नॉर्थ सेंट्रल रेंज के डीआईजी ब्रजेश कुमार ने बताया कि पुलिस दुकानों में आग लगाने वाले उपद्रवियों की पहचान कर रही है। दोषियों के खिलाफ होगी कड़ी कार्रवाई।

सुबह-शाम दो घंटे के लिए सिगरेट से छूट मिलेगी
पुलिस-प्रशासन हालात पर कड़ी नजर रख रही है। संबलपुर में 20 पेट्रोलिंग टीम लगी हैं। लोगों को सुबह 8-10 बजे और दोपहर 3.30-5 बजे तक जरूरी सामान खरीदने के लिए बाहर जाने की छूट दी गई है। इस दौरान सभी स्कूल और कॉलेज भी बंद रहेंगे।

12 अप्रैल को हनुमान जयंती की रैली में हुई हिंसा

संबलपुर में 12 अप्रैल को बाइक रैली के दौरान दो समुदायों के बीच हिंसा भड़की थी। जिसके बाद जिले में इंटरनेट सेवा बंद कर दी गई और धारा 144 लगा दी गई। पुलिस ने मामला दर्ज कर 40 लोगों को हिरासत में लिया था। इस दौरान 7 सुरक्षाकर्मी और 10 लोग घायल हो गए। पूरी खबर पढ़ें…

इसके बाद शुक्रवार की शोभायात्रा के लिए सख्त अख्तियार किए गए थे। ओडिशा में हनुमान जयंती महाविष्णु संक्राति के दिन मनाई जाती है, जो इस साल 14 अप्रैल को थी।

Back to top button