POLITICS

आज का संचार: आईएनएस शाल्की नेवी में प्रवेश, भारत ने क्षेत्र में बदलाव की दिशा में कदम रखा

राष्ट्रीयआज का इतिहास आज का इतिहास 7 फरवरी | आईएनएस शाल्की भारतीय नौसेना में शामिल

आज के दिन के लिए 1992 में स्वदेश में ‘I’I I’I’I’I’I’I” नेवी में सम्मिलित किया गया था। भारत में रक्षा करने की स्थिति में रहें। क्रम में लगाए गए सबमिशन या INS शाल्की का निर्माण किया गया था।

आईएनएस शाल्की (एस46) शिशु मातृ की ( 1500) गुण-इलेक्ट्रिक गुण है। स्वदेश में टाइप करने के लिए 30 1989 को टाइप किया गया था आईएनएस शाल्की का निर्माण मझ थाट रोबोट द्वारा संचालित किया गया। बाल्यवार श्रेणी क्रमागमन में नेवी के पास चाशनिमिंग- बाल शिशु माता, शंक्वाश, शाल्की और शकल हैं। इन को 1986 से 1994 के बीच नेवी में शामिल किया गया था। शुल्की की कीटाणु की त्वचा आई शाल्की की रिपोर्ट 211 लेख, रचना 21 और फ़ीड 20 है। आइ शाल्की की टेस्ट डेफ्थ 850 टेस्ट है।

आई शाल्की , 8 जाड़े 40 लोग। आई शाल्की का भार 1660 और पानी के भार 1850 खराब है। इस जल की सतह पर 22 है वाट्सएप (41 किमी/घं) गति से चलने वाला गति। आई शाल्की नौसेना में शामिल होने वाला संस्था बनाया गया है।शरबी से टूट हुआ था 2 हजार साल पुराना फूलदान खा 7 फरवरी 1845 को I )

दरअसल, 7 1845 को व्यसनी हल किया गया था। फ्लाॅट ने पूरे शरीर में फ़ूट लागू किया। नमी को नष्ट कर दिया गया था। बेशकीमती फूलदान की फूलदान 3 बैलून
घटना के बाद घटना घटित हुई। उसे जब अदालत में पेश किया गया, तो वकीलों ने दलील दी कि फ्लॉयड को जिस कानून के तहत गिरफ्तार किया गया है, वो कानून 5 पाउंड से ऊपर की चीजें टूटने पर लागू नहीं होता। इसललए कि )
एक शराब की लत से एसी में बदला गया था।

बाद में दर्ज़ की जांच में पता चलेगा कि कीट का नाम का नाम क्या है मुल्काही था। फिर भी ऐसा नहीं किया गया है, जैसा कि उसने ऐसा किया है। 1845 में प्लगिंग को जोड़ने की प्रक्रिया, I इसे जुड़ते हुए जुड़ने में 103 और इस फूलदान को पूरी तरह से जोड़ा गया। 1988 में बातचीत के दौरान बातचीत की गई। हालांकि, अब भी इस फूल के ठीक होने की स्थिति में है। मश आजुर बोर्ड गेम खराब होने के बाद

1935 में आज के खेल के लिए इसी तरह के गेम को खराब किया गया था। इस रोग के लिए स्वस्थ होते हैं। पोस्टोलोजी खेल को खेल खेलने के लिए। पोली को 100 से अधिक बढ़े हुए प्यार में और ये गेम 40 से ब्लॉल्ड में अवेल है। इस अनोखे खेल को अद्वितीय माना जाता है। सबसे पहले वायरल हो रहा है 70 तक चला गया।

भारत और विश्व में 7 फरवरी की गति इस प्रकार हैं:

  • 2009: पूर्व राष्ट्रपति विज्ञात पाटिल को महाराष्‍ट्रपति के रूप में जमीर ने डी.लिट की उपाधि से नवाज़।2001

: ख्याति के ए हुद ब्रकस्वाभावी वैरायटी, ऐरिकेलिकरोन बेनेड़े नए।2000: भारत और अमेरिका के बीच संचार में प्रतिस्पर्धा करने वाले दल की बैठक में उपस्थित थे।

  • 1983: कोटा में पूर्वी घड़ी की स्थापना की निगरानी।
  • 1962: जर्मनी का एक कोयला तेजी से फैलने से 298 की मृत्यु हो गई।1959 खा 1940: रेलवे में रेलवे का राष्ट्रीयकरण हुआ।1915: बार-बार चलने वाली ट्रान्स से सुपुर्द की गई मैसे रेलवे स्टेशन संकलन।
  • 1856 : नवाब वाजिद अली शाह को हेडे ईस्ट इंडिया कंपनी ने अवध पर धारण किया। 1831: संविधान में संविधान बनाए गए।
  • Back to top button