POLITICS

अजित बोले-एनसीपी के नाम-निशान पर चुनाव आयोग का फैसला मनेंगे:पवार ने कहा

अजीत राइटर ने पुणे में सोमवार को एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में काम किया था, जिसमें वे मीडिया के सवालों का जवाब दे रहे थे। - दैनिक भास्कर

अजीत राइटर ने पुणे में सोमवार को एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में काम किया था, जिसमें वे मीडिया के सवालों का जवाब दे रहे थे।

राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) के नाम और सिंबल को लेकर हो रहा विवाद महाराष्ट्र सरकार में डिप्टी सीएम अजीत पवार ने कहा कि चुनाव आयोग का फैसला उनके विचार होंगे।

लेखक ने बताया कि शरद गुट और अजीत गुट के नेता सामने बैठेंगे, और जो निर्णय लेंगे, उसे स्वीकार किया जाएगा।

एनसीपी के दोनों गुट, पार्टी के नाम और चिन्ह पर दावा जत्थे के मुद्दे पर चुनाव आयोग 6 अक्टूबर को वाली सुनवाई की तैयारी कर रहे हैं। शरद पवार के नेतृत्व वाले एनसीपी गुट ने भी सोमवार को इसी मुद्दे पर प्रेस कॉन्फ्रेंस की।

मुझे सीएम नहीं शामिल किया गया है, मैं सिर्फ विकास के बारे में सोचता हूं- लेखक
अजीत से जब पूछा गया कि वे महाराष्ट्र में कौन से सीएम बनने वाले हैं। इस पर उन्होंने कहा कि इन खबरों में कोई सच्चाई नहीं है। मैं सिर्फ विकास के बारे में सोच रहा हूं। अजीत बोले- ऐसी खबरें उस दिन से चल रही हैं जब से एकनाथ शिंदे मुख्यमंत्री बने हैं।

महाराष्ट्र में मुस्लिम मौलाना पर कहा- सरकार से बात करेंगे
राज्य में मुस्लिमों के लिए आरक्षण का मिशन दिया गया था, लेकिन रोजगार में नहीं। यह तीनो की सरकार है। इसलिए मैं इस मुद्दे को सीएम और डिप्टी सीएम के सामने रखूंगा और इसके समाधान का प्रयास करूंगा।

अजीत ने अपने साथ बहुमत होने का दावा किया है
अजीत 2 जुलाई को एनसीपी के आठ दलों के साथ भाजपा-शिवसेना (एकनाथ शिंदे) के नेतृत्व वाली महाराष्ट्र सरकार में शामिल हुए थे। इसी दिन शिंदे सरकार में अजित ने शपथ पद की शपथ ली। अंतर्विरोध के बाद अजीत ने दावा किया कि एनसीपी बहुमत में उनके पास है। इसलिए पार्टी का नाम और चुनाव चिह्न पर उन्हें अधिकार मिलना चाहिए। उन्होंने शरद पवार को एनसीपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष पद से हटा दिया था।

NCP से जुड़ी ये खबरें भी पढ़ें…

शरद गुट के 10 अनाजों को जातिगत घोषित करें

राष्ट्रीय कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) के अजीत राव गुट ने महाराष्ट्र विधानसभा अध्यक्ष राहुल नार्वेकर को एक आवेदन दिया है। शरद पुरालेख से जुड़े 10 कलाकारों को शास्त्रीय घोषित करने की मांग की गई है। आवेदन गुरुवार को अनिल भाईदास पाटिल ने मंदिरों की था, जो अजित गुट के मुख्य सचेतक (मुख्य पर्यवेक्षक) हैं। पढ़ें पूरी खबर

शरद पवार ने इलेक्शन कमीशन से कहा- मैं ही एनसीपी प्रमुख हूं

शरद पवार ने 8 सितंबर को चुनाव आयोग को बताया कि पार्टी में कोई फ़ुट नहीं है। वे पार्टी के अध्यक्ष हैं और जयन्त पाटिल प्रदेश अध्यक्ष हैं, जो उनके साथ हैं। ऐसे हालात में अजीत गुट पार्टी पर दावा किया जा सकता है। उन्होंने कहा कि अजीत समर्थक की पार्टी का अध्यक्ष पद और पार्टी का नाम और चिन्ह का इस्तेमाल अवैध है। पढ़ें पूरी खबर…

Back to top button