POLITICS

International Yoga Day 2021 Speech, Quotes: योग दिवस पर यहां से तैयार करें स्पीच, देखें बेहतरीन कंटेंट

  1. Hindi News
  2. जीवन-शैली
  3. International Yoga Day 2021 Speech, Quotes: योग दिवस पर यहां देखें स्पीच के लिए बेहतरीन कंटेंट

International Yoga Day 2021 Speech, Essay, Quotes, Nibandh: इस दिन सिर्फ भारत ही नहीं बल्कि दुनिया भर के लोग योगाभ्यास करते हैं। इस साल 7वां योग दिवस मनाया जाएगा।

योग दिवस के मौके पर यहां से लिखें स्पीच (फोटो क्रेडिट- Indian Express)

International Yoga Day 2021 Speech, Essay: योग जो कि व्यायाम के सबसे प्रभावशाली रूपों में से एक है, स्वस्थ जीवन जीने के लिए बहुत आवश्यक होता है। साथ ही, मन और मस्तिष्क को संतुलित रखने में भी योग अहम भूमिका निभाता है। हर वर्ष अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस 21 जून को मनाया जाता है। इस दिन सिर्फ भारत ही नहीं बल्कि दुनिया भर के लोग योगाभ्यास करते हैं। इस साल 7वां योग दिवस मनाया जाएगा। इस खास मौके पर अगर आपको भाषण या निबंध के लिए कंटेंट की दरकार है तो यहां से मदद लें –

स्पीच 1: जैसा कि आप सभी जानते हैं कि 21 जून को अंतरराष्ट्रीय योग दिवस मनाया जाता है। दुनिया भर में योग का अभ्यास करने और योग दिवस के रूप में मनाने के लिए एक विशेष तारीख की शुरुआत भारतीय प्रधान मंत्री द्वारा की गई थी।

बच्चों के लिए एक अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस निबंध में, यह उल्लेख करना महत्वपूर्ण है कि योग के अंतर्राष्ट्रीय दिवस की घोषणा भारत के लिए एक महान क्षण है। संयुक्त राष्ट्र महासभा द्वारा विश्व योग दिवस के रूप में घोषित किए जाने में तीन महीने से भी कम समय लगा।

भारतीय प्रधानमंत्री, नरेंद्र मोदी ने 2014 में 27 सितंबर को बुलाया था, जो अंततः 2014 में 11 दिसंबर को घोषित किया गया था। यह इतिहास में पहली बार हुआ था कि किसी भी देश की पहल को संयुक्त राष्ट्र में प्रस्तावित और कार्यान्वित किया गया है। 90 दिन। इस संकल्प को वैश्विक स्वास्थ्य और विदेश नीति के तहत आम सभा द्वारा अपनाया गया है

ताकि आप अपने स्वास्थ्य और कल्याण के लिए एक समग्र दृष्टिकोण प्रदान कर सकें। इस दिन का आधिकारिक नाम संयुक्त राष्ट्र अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस है और इसे योग दिवस भी कहा जाता है। यह सभी देशों द्वारा योग, ध्यान, वाद-विवाद, बैठक, विचार-विमर्श, सांस्कृतिक प्रदर्शनों की विविधता आदि के माध्यम से मनाया जाता है।

स्पीच 2: आप सभी ने वेदों पुराणों और ग्रंथों में पढ़ा ही होगा कि प्राचीन लोग बहुत ही ज्यादा मजबूत और शक्तिशाली हुआ करते थे। ऐसा होने के कई कारणों में से एक योग भी है। योग का अभ्यास करने से शरीर को मजबूती मिलती है और हमारा शरीर भिन्न भिन्न पर्यावरणीय परिस्थितियों के लिए खुद को तैयार कर लेता है।

योग शरीर के लिए फायदेमंद है, यह तो मैं आपको बता चुका हूं, लेकिन किस हद तक। क्या योग की शक्तियां सीमित हैं? बिल्कुल भी नहीं। योग करने के लिए विभिन्न योगासनों का अभ्यास करना होता है और योग में कई ऐसे योगासन हैं जिनसे की अलग अलग विकारों को दूर किया जा सकता है, आंतरिक शरीर के अलावा ऐसा कोई बाह्य विकार नहीं हैं जिसे योग द्वारा दूर न किया जा सकता हो। योग को आप एक पूर्ण उपचार के रूप में भी देख सकते हैं।

Read More

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
%d bloggers like this: