POLITICS

IND vs ENG: कितना रेस्ट चाहिए भाई, आकाश चोपड़ा ने टीम के सीनियर्स पर उठाए सवाल; उधर, पूर्व ओपनर का दावा

भारतीय टेस्ट टीम के पूर्व ओपनर और कमेंटेटर आकाश चोपड़ा ने अपने यूट्यूब चैनल पर कोहली, रोहित और बुमराह को वेस्टइंडीज के खिलाफ एकदिवसीय मैच का हिस्सा नहीं होने पर निराशा जाहिर की।

भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) की चयन समिति को रोहित शर्मा, विराट कोहली और जसप्रीत बुमराह की तिकड़ी के वेस्टइंडीज के खिलाफ एकदिवसीय सीरीज से दूर रहने का फैसला करने के बाद शिखर धवन को भारतीय टीम का कप्तान चुनना पड़ा। तीनों को आराम का विकल्प चुनते देख भारत के पूर्व क्रिकेटर आकाश चोपड़ा ने उनके फैसले पर सवाल उठाया है। उधर, वसीम जाफर का मानना है कि दीपक हुड्डा आने वाले दिनों में विराट कोहली पर दबाव बढ़ाएंगे।

भारत के पूर्णकालिक कप्तान के रूप में नियुक्त होने के बाद से रोहित शर्मा चोट, फिटनेस या कोविड-19 जैसे मुद्दों के कारण कई मुकाबलों में खेलने से चूक गए हैं। विराट कोहली ने भी स्वेच्छा से कुछ मैच छोड़े हैं, जबकि जसप्रीत बुमराह को अक्सर बड़े विदेशी दौरों से पहले आराम दिया गया है।

आकाश चोपड़ा ने अपने यूट्यूब चैनल पर कोहली, रोहित और बुमराह को वेस्टइंडीज के खिलाफ एकदिवसीय मैच का हिस्सा नहीं होने पर निराशा जाहिर की। उन्होंने यह भी पूछा कि क्या तीनों को इस बात की चिंता नहीं है कि कोई और इन अवसरों का फायदा उठाकर टीम में अपनी जगह बना लेगा।

आकाश चोपड़ा ने कहा, ‘बाकी के साथ क्या है? आप कितना आराम चाहते हैं? पहले, जब कोई खिलाड़ी आउट ऑफ फॉर्म हुआ करता था, तो उसे बाहर किया जाता था और घरेलू क्रिकेट में रन बनाने पर फिर से चुना जाता था। लेकिन अब जब भी कोई आउट ऑफ फॉर्म होता है। वह आराम करता है। क्या आप लोग इसके बारे में चिंतित नहीं हैं?’

आकाश चोपड़ा ने कहा, ‘मेरा निजी तौर पर मानना है कि जब भी कोई आउट ऑफ फॉर्म हो, तो उसे जितना संभव हो उतनी क्रिकेट खेलनी चाहिए। साल 2020 में मार्च से सितंबर तक लगभग छह महीने तक क्रिकेट नहीं था। अगले साल फिर आप आधा आईपीएल खेले और 3-4 महीने के अंतराल के बाद दूसरा हॉफ खेले। इस हिसाब से 2-3 साल में पहले से ही दस महीने का आराम मिल चुका है। पेशेवर खेल में आपको इससे ज्यादा आराम नहीं मिलता है।’

उधर, ईएसपीएनक्रिकइंफो से बातचीत में वसीम जाफर ने कहा, ‘विराट कोहली जब मैदान पर वापसी करेंगे तब दीपक हुड्डा का प्रदर्शन उन पर दबाव बढ़ाएगा। दीपक हुड्डा वह खिलाड़ी है, जिसने लगातार आईपीएल और अब टी20 अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में अच्छा प्रदर्शन करके दिखाया है। इस बात का दबाव विराट कोहली से उनका बेहतर प्रदर्शन निकालने का काम कर सकता है।’

वसीम जाफर ने इंग्लैंड के खिलाफ पहले टी20 में दीपक हुड्डा के प्रदर्शन को लेकर कहा, ‘जिस तरह से उन्होंने खेल की रफ्तार बढ़ाई। जिस तरह से उन्होंने बल्लेबाजी की। वह वाकई प्रभावित करने वाला था। पिछले टी20 विश्व कप में ये लय लगातार गायब दिखी थी। वह जिस आक्रामक रुख के साथ आगे बढ़ रहे हैं ये देखना तरोताजा करता है।’

Read More

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
%d bloggers like this: