BITCOIN

इज़राइल के ‘ब्लैक शब्बत’ पर हमास का नरसंहार कैसे सामने आया


1 घंटा पहले अपडेट किया गया · 27 अक्टूबर 2023 सुबह 9:00 बजे प्रकाशित ·

इज़रायली सेना द्वारा आयोजित एक मीडिया दौरे के दौरान ली गई तस्वीर में 19 अक्टूबर को गाजा पट्टी की सीमा पर किबुत्ज़ निर ओज़ में एक घर के फर्श पर खून के धब्बे दिखाई दे रहे हैं। अनुमान है कि निर ओज़ के 100 लोग मारे गए, अपहरण कर लिए गए या चले गए हमास द्वारा 7 अक्टूबर को नागरिकों पर किए गए हमले के दौरान लापता। – एएफपी तस्वीर, 27 अक्टूबर, 2023।

यह शनिवार, 7 अक्टूबर को सूर्योदय से ठीक पहले है, और सैकड़ों हमास आतंकवादी इज़राइल के साथ गाजा की सीमा की ओर बढ़ रहे हैं। कुछ ही मिनटों में वे नरक के द्वार खोलकर पार हो जायेंगे।

लगभग तीन सप्ताह पहले उस सुबह, न तो गाजा की हाई-टेक सीमा बाड़ की निगरानी कर रहे इजरायली सैनिकों और न ही आसपास के कस्बों और किबुत्ज़िम में रहने वाले नागरिकों को इस बात का अंदाजा था कि हमास इजरायल के 75 साल के इतिहास में सबसे खूनी हमला करने वाला है।


जुलाई 2018 से प्रभावी, पूर्ण रिपोर्ट तक पहुंच केवल सदस्यता के साथ ही उपलब्ध होगी। अभी साइन-अप करें और एक (1) सप्ताह तक निःशुल्क पहुंच का आनंद लें!

अब सदस्यता लें!



साइन अप करें या साइन इन करें यहाँ टिप्पणी करने के लिए।

Back to top button