POLITICS

17 साल की शेफाली वर्मा ने की सचिन तेंदुलकर की बराबरी, डेब्यू टेस्ट की दोनों पारियों में 50+ रन बनाने वाली पहली भारतीय महिला भी बनीं

  1. Hindi News
  2. खेल
  3. 17 साल की शेफाली वर्मा ने की सचिन तेंदुलकर की बराबरी, डेब्यू टेस्ट की दोनों पारियों में 50+ रन बनाने वाली पहली भारतीय महिला भी बनीं

शेफाली वर्मा ने इंग्लैंड के खिलाफ एकमात्र टेस्ट मैच के तीसरे दिन 18 जून 2021 को यह रिकॉर्ड अपने नाम किया। ब्रिस्टल के काउंटी ग्राउंड में इस टेस्ट मैच का तीसरा दिन इंग्लैंड, बारिश और शेफाली के नाम रहा।

शेफाली वर्मा डेब्यू टेस्ट मैच में सबसे ज्यादा रन बनाने के मामले में भी चौथे नंबर पर पहुंच गईं हैं। (सोर्स- ट्विटर/ईएसपीएनक्रिकइंफो)

वाह शेफाली वाह! जी हां, 17 साल की शेफाली वर्मा (Shafali Verma) के कारनामे सुनकर आप भी ऐसा ही कहेंगे। शेफाली वर्मा डेब्यू टेस्ट मैच की दोनों पारियों में 50 या उससे ज्यादा रन बनाने वाली भारत की पहली महिला क्रिकेटर बन गई हैं। वह ऐसा करने वाली दुनिया की चौथी महिला क्रिकेटर बनी हैं। वह दोनों पारियों में 50+ रन बनाने वाली दुनिया की सबसे कम उम्र की महिला भी बन गई हैं।

शेफाली ने इसके साथ ही सचिन तेंदुलकर (Sachin Tendulkar) के एक रिकॉर्ड की बराबरी भी की। भारत में अब तक दो क्रिकेटर (सचिन तेंदुलकर और शेफाली वर्मा) ही ऐसे हुए हैं, जिन्होंने 18 साल की उम्र से पहले टेस्ट मैच की दोनों पारियों में 50+ रन का स्कोर किया। खास यह है कि दोनों का यह रिकॉर्ड इंग्लैंड की टीमों (पुरुष और महिला) के खिलाफ ही है। सचिन तेंदुलकर ने 1990 में टेस्ट की दोनों पारियों में 50+ रन का स्कोर बनाया था। उस समय उनकी उम्र 17 साल 107 दिन थी। शेफाली ने 2021 में जब यह रिकॉर्ड अपने नाम किया, तब उनकी उम्र 17 साल 139 दिन थी।

शेफाली वर्मा डेब्यू टेस्ट मैच में सबसे ज्यादा रन बनाने के मामले में भी चौथे नंबर पर पहुंच गईं हैं। खास यह है कि अभी वह क्रीज पर हैं। ऐसे में उनके पास रोहित शर्मा और लाला अमरनाथ जैसे दिग्गज क्रिकेटर्स का रिकॉर्ड तोड़ने का भी मौका है। शेफाली ने यह सारी उपलब्धियां इंग्लैंड के खिलाफ एकमात्र टेस्ट मैच के तीसरे दिन यानी 18 जून 2021 को हासिल कीं। ब्रिस्टल के काउंटी ग्राउंड में इस टेस्ट मैच का तीसरा दिन इंग्लैंड, बारिश और शेफाली के नाम रहा।

डेब्यू टेस्ट की दोनों पारियों में कुल मिलाकर सबसे ज्यादा रन बनाने भारतीयों में शिखर धवन शीर्ष पर हैं। उन्होंने 2013 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ दोनों पारियों में कुल मिलाकर 187 रन बनाए थे। रोहित शर्मा ने उसी साल वेस्टइंडीज के खिलाफ 177 रन बनाए थे। लाला अमरनाथ ने 1933 में इंग्लैंड के खिलाफ 156 रन बनाए थे। शेफाली वर्मा इंग्लैंड के खिलाफ अब तक 151 रन बना चुकी हैं। दूसरी पारी में अभी वह नाबाद हैं।

बारिश के व्यवधान के कारण शुक्रवार (18 जून) यानी तीसरे दिन का खेल तय समय से पहले खत्म हो गया। तीसरे दिन का खेल खत्म होने के समय भारतीय महिलाओं ने दूसरी पारी में एक विकेट पर 83 रन बना लिए थे। पहली पारी में महज चार रन से शतक से चूकने वाली शेफाली 11 चौके की मदद से 55 रन बनाकर नाबाद हैं। दूसरे छोर पर पदार्पण कर रही एक अन्य बल्लेबाज दीप्ति शर्मा 18 रन बनाकर क्रीज पर मौजूद हैं।

इन दोनों ने 20 ओवरों तक इंग्लैंड की गेंदबाजों का डटकर सामना किया और लंच के बाद के सत्र में 54 रन जोड़े, जब बारिश के कारण चाय के सत्र में विलंब हुआ। लंच के बाद का सत्र बारिश के कारण 30 मिनट देर से शुरू हुआ था। इंग्लैंड ने दूसरे सत्र में इन दोनों खिलाड़ियों को आउट करने की कोशिश की लेकिन उन्हें सफलता नहीं मिली। दूसरी सलामी बल्लेबाज स्मृति मंधाना सुबह के सत्र में आठ रन पर आउट हो गई थीं।

भारतीय टीम चार दिन के मैच में अब भी 82 रन से पिछड़ रही है, जबकि उसके नौ विकेट बाकी हैं, जिससे शनिवार को अंतिम दिन का खेल दिलचस्प बन जाएगा। भारतीय महिला टीम सुबह के सत्र में पहली पारी में 231 रन पर सिमट गई थी। इंग्लैंड ने पहली पारी नौ विकेट पर 396 रन पर घोषित की थी और भारत उससे 165 रन से पिछड़ रहा था जिससे मेजबानों ने उसे फॉलोऑन दिया।

दूसरे दिन शेफाली और मंधाना (78) ने भारत को शानदार शुरुआत दी थी, लेकिन उसने इसके बाद जल्दी जल्दी पांच विकेट गिर गए। भारत ने शुक्रवार सुबह पांच विकेट पर 187 रन से खेलना शुरू किया। उसने इसी स्कोर पर दो खिलाड़ियों के विकेट गंवा दिए। दीप्ति एक छोर पर डटी थीं लेकिन दूसरे छोर पर विकेट गिरते गए। भारत ने इस तरह 21.2 ओवर में पांच विकेट गंवाकर रात के स्कोर में 44 रन जोड़े।

दीप्ति ने नाबाद 29 और पूजा वस्त्राकर ने 12 रन का योगदान किया। इन दोनों ने नौंवे विकेट के लिये 33 रन की भागीदारी की लेकिन टीम को फॉलोऑन से नहीं बचा सकीं। भारत को इंग्लैंड की स्पिनर सोफी एक्लेस्टोन और हीथर नाइट की जोड़ी को खेलने में सबसे ज्यादा परेशानी हुई। एक्लेस्टोन ने 88 रन देकर चार विकेट अपने नाम किये जबकि हीथर नाइट को दो विकेट मिले। कैथरीन ब्रंट, नटाली स्किवर, आन्या श्रबसोल और केट क्रास ने एक एक विकेट प्राप्त किया।

भारत ने दिन का पहला रन 20 गेंद खेलने के बाद बनाया, लेकिन तब तक उन्होंने दो विकेट गंवा दिए थे। इसमें उप कप्तान हरमनप्रीत कौर का अहम विकेट भी शामिल था। दिन के दूसरे ओवर में इंग्लैंड ने रिव्यू लिया और हरमनप्रीत रात के चार रन के स्कोर में एक भी रन जोड़ने से पहले आउट हो गईं। उन्हें एक्लेस्टोन की गेंद पर पगबाधा आउट दिया गया।

तानिया भाटिया दो ओवर बाद छह गेंद खेलकर पवेलियन लौटीं। उन्हें भी एक्लेस्टोन ने आउट किया। इसके बाद इंग्लैंड की इस गेंदबाज ने स्नेह राणा (02) को टर्न लेती गेंद पर आउट किया जिससे भारत का स्कोर आठ विकेट पर 197 रन हो गया। इंग्लैंड ने 80 गेंद के बाद नईं गेंद ली और भारतीय पारी इसके 1.2 ओवर बाद पूजा वस्त्राकर (12) और झूलन गोस्वामी के आउट होने से समाप्त हुई।

  • Jaya Kishori Age, Jaya Kishori ki bhagwat, Jaya Kishori biography, Jaya Kishori fees, Jaya Kishori wikipedia, Jaya Kishori ka pravachan,

Read More

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
%d bloggers like this: