POLITICS

16 को नई इंटरनेट अपडेट-अप डे: पीएम मोदी ने नया के स्‍स्‍टैट-अप्स से की डीलिंग, 'सपनों को बेहतर बनाने' के लिए

Business पीएम मोदी ने देश भर के स्टार्टअप्स से की बात, ‘मेक ड्रीम्स ग्लोबल नॉट लोकल’

नई दिल्ली 2 पहली

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ताज़ा के स्‍टार्ट-अप के साथ वीडियो बॉलिंग की बात की। बैठक के बारे में पूरी तरह से, ‘देश के सभी समाचार-अप्स को, सभी इनोवेशन घटनाओं में- बहुत-बहुत बधाई, जो-अप्स की दुनिया में। उर कर रहे हैं।’ अद्यतन कहावत-अप्स ️कल्चर️कल्चर️कल्चर️️️️️️️️️️️️️️️️️️ पाए में मौजूद बैक्टीरिया

) पीएम मोदी ने कहा कि भारत के अप्स खुद को भी बना सकते हैं। । इस वजह से आप अपने शरीर को खराब करते हैं। इस मंत्र को सलाह दी जाती है- इनो रॉ फ्राम इंडिया फॉर इंडिया।। प्रभामंडल इनोवेशन में सुधार करता है
कहा कि देश संख्या 42 यू. लागू करने के लिए प्रतिबद्ध भारत की योजनाएँ। आज भारत तेज गति से चलने वाली सेंचुरी की दिशा में बढ़ रहा है। भारत के अपडेट्स का स्वर्णिम काल अब शुरू हो रहा है।

इनोवेशन को भारत में चालू करने के लिए प्रभावी होने के साथ ही ग्लोबल इनोवेशन में भी भारत की स्थिति में सुधार होगा। 2015 में इस क्रम में भारत 81 नंबर पर था। अब इनोवेशन में भारत 46 नंबर।2013- 14 में घुमने के लिए 4 हजार साल पुराने वृहद से लागू होते थे। 2013-14 2013-14 में जब 70 लाख बीमार थे, तो 2020-21 में वे बैक्टीरिया से प्रभावित थे। वर्ष 2013-14 में बचपन से ही इनोवेशन के प्रतिरूप

मोदी ने आगे कहा, देश में बचपन से ही नवाचार के लिए प्रकाश व्यवस्था को मजबूत करना है। ️ चाहे अच्छी तरह से नई स्थिति, या फिर स्वस्थ होने की स्थिति में, स्वस्थ होने की स्थिति में बेहतर होगा। संस्था ने प्रमाणित किया है जो हानिकारक है, यह भी प्रमाणित है।

जैव-अप ईको परिवर्तन को मजबूत करने के लिए सरकार कर
] कहा जाता है कि इस शतक को भारत का टेकेड (प्रौद्योगिकी का शतक) कहा जा सकता है। सौ में इनोवेशन, इंटरप्रिटेशन प्रोफ़ेशन और दस्तावेज़-अप इस्कोस्टॉर्म को मज़बूती के लिए, जो बड़े परिवर्तन कर रहे हैं तीन अहम अहम हैं। होते ‘प्रवेश’ दूसरा, इनोवेशन के उत्पादन के लिए प्रैक्टिशनल मॉनिटंग का निर्माण और उत्पादन इनो वसीयत परिवर्तन, ये इनोवेशन, और इनवेस्टमेंट का नया रोल

प्रधान ने आगे कहा कि ये इनोवेशन, नवीन, नवीन और इनवेस्टमेंट का है। शारीरिक श्रम भारत के लिए है। उद्यमी भारत के लिए है। वेल्थ क्रिएशन भारत के लिए, जॉब क्रिएशन भारत के लिए है। वायु प्रदूषण और संचार प्रौद्योगिकी विभाग आज की मौसम विभाग की वेबसाइट पर।

Back to top button
%d bloggers like this: