POLITICS

सेबी ने सहारा ग्रुप की दो कंपनियों पर लगाया 12 करोड़ का जुर्माना, जानिए क्या है मामला

Sahara Group: सहारा ग्रुप की दो कंपनियों एसआईआरईसीएल और एसएचआईसीएल ने 2008 और 2009 की अवधि के दौरान ओएफसीडी जारी किए थे, जिसमें सेबी के आईसीडीआर और पीएफयूटीपी नियमों का उल्लंघन किया गया था।

सेबी ने सोमवार को सहारा समूह की दो फर्मों सहारा कमोडिटी सर्विसेज कॉर्पोरेशन लिमिटेड और सहारा हाउसिंग इन्वेस्टमेंट कॉरपोरेशन लिमिटेड के साथ-साथ सुब्रत रॉय सहारा और तीन अन्य (अशोक रॉय चौधरी, रवि शंकर दुबे और वंदना भार्गव) पर 2008 और 2009 में Optionally Fully Convertible Debentures (OFCDs) जारी करने में नियामक मानदंडों का उल्लंघन करने के लिए 12 करोड़ रुपये का जुर्माना लगाया। सेबी के आदेश के अनुसार, जुर्माने का भुगतान संयुक्त रूप से या फिर अलग-अलग रूप से 45 दिनों के भीतर किया जाना चाहिए।

दोनों कंपनियों ने 2008 और 2009 की अवधि के दौरान ओएफसीडी जारी किए थे और कथित तौर पर सेबी के आईसीडीआर (Issue of Capital and Disclosure Requirements) रेगुलेशन और पीएफयूटीपी (Prohibition of Fraudulent and Unfair Trade Practices) नियमों का उल्लंघन में किया गया था।

जांच में सेबी ने पाया कि एसआईआरईसीएल और एसएचआईसीएल ने नियमों के तहत निर्धारित पब्लिक इशू के संबंध में निवेशकों के हितों की रक्षा के उद्देश्य से बनाई गई विभिन्न प्रक्रियाओं का पालन किए बिना ओएफसीडी जारी करके धन जुटाया था।

आगे सेबी ने कहा कि सहारा ग्रुप की कंपनियों एसआईआरसीएल और एएसएचआईसीएल ने पूरे देश में कंपनी के द्वारा जारी की गई ओएफसीडी को सब्सक्राइब करने के लिए कहा था, लेकिन निवेशकों को इससे जुड़े जोखिम के बारे में जानकारी नहीं दी गई थी और ना ही निवेशकों को यह बताया गया था कि इससे जुटाए गए धन का प्रयोग कंपनी किस प्रोजेक्ट में करेगी।

सेबी के अधिकारी सुरेश बी मेनन ने इस मामले पर दिए आदेश में कहा कि जांच के बाद यह निष्कर्ष निकलता है कि सहारा ग्रुप की दो कंपनियां यानी एसआईआरईसीएल और एसएचआईसीएल और उनके प्रमोटर / निदेशकों ने ओएफसीडी को धोखाधड़ी के साथ गलत तरीके से जारी किया है ताकि भोले-भाले निवेशकों को ऐसे ओएफसीडी की सदस्यता के लिए प्रेरित किया जा सके और इसके कारण पीएफयूटीपी रेगुलेशन के नियमों का उल्लंघन हुआ है।

Read More

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
%d bloggers like this: