POLITICS

सुशील मोदी ने रघुवंश प्रसाद सिंह की जयंती मनाने की तेजस्वी यादव की मांग का भी किया समर्थन

सुशील मोदी ने रघुवंश प्रसाद सिंह की जयंती मनाने की तेजस्वी यादव की मांग का भी किया समर्थन

सुशील कुमार मोदी ने कहा कि रघुवंश बाबू की जयंती पर राजकीय समारोह हो और सरकार इस पर निर्णय करे.

पटना:

बिहार (Biahr) की राजनीति में आजकल मागें अब दो स्वर्गीय नेताओं पूर्व केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान और राष्ट्रीय जनता दल के नेता रघुवंश प्रसाद सिंह के इर्द गिर्द हो रही हैं. पहले विपक्ष के नेता तेजस्वी यादव ने इन दोनों नेताओं की जयंती पर सरकारी समारोह और साथ-साथ आदम क़द प्रतिमा लगाने की मांग की. इसके बाद बिहार भाजपा के वरिष्ठ नेता सुशील कुमार मोदी ने सोमवार को कहा कि रघुवंश बाबू की जयंती पर राजकीय समारोह हो और सरकार इस पर निर्णय करे. सुशील मोदी ने एक ट्वीट में कहा कि पूर्व केंद्रीय मंत्री रघुवंश प्रसाद सिंह वास्तव में गरीबों की चिंता करने वाले ईमानदार नेता थे. 

रामविलास पासवान पर तेजस्वी यादव की मांग को मिला सुशील मोदी का समर्थन

मोदी के अनुसार मुख्यमंत्री नीतीश कुमार एक संवेदनशील व्यक्ति हैं, इसलिए उन्हें रघुवंश बाबू की जयंती-पुण्यतिथि को राजकीय रूप से मनाने पर विचार करना चाहिए. हालांकि तेजस्वी यादव के बड़े भाई तेजप्रताप यादव के बयानों का ज़िक्र करते हुए सुशील मोदी ने कहा कि जिन लोगों ने जीवन काल में रघुवंश प्रसाद सिंह को “एक लोटा पानी” बताकर अपमान किया, उनके दल को सरकार से कोई मांग करने का हक नहीं. उन्हें तो प्रायश्चित करना चाहिए. सुशील मोदी ने माना कि रघुवंश प्रसाद सिंह ने यूपीए-1 में केंद्रीय मंत्री के नाते गरीबों को साल में 100 दिन रोजगार सुनिश्चित करने वाली योजना मनरेगा को लागू कराया. 

RJD के प्रदेश अध्यक्ष जगदानंद सिंह ने RSS की तुलना तालिबान से की, सुशील मोदी बोले- मानसिक संतुलन खो रहे हैं…

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस कल्याणकारी योजना को न केवल जारी रखा, बल्कि इसे और व्यापक तथा पारदर्शी बना कर उनका सम्मान किया. मोदी के अनुसार रघुवंश बाबू ने राजद के अंध भाजपा-विरोध को दरकिनार कर ऊंची जाति के गरीबों को 10 फीसद आरक्षण देने के सरकार के निर्णय का समर्थन किया था. उनके लिए दल से बड़ा था गरीबों का हित. ऐसे व्यक्ति की पहली पुण्यतिथि पर उन्हें सादर नमन.

Back to top button
%d bloggers like this: