POLITICS

सुप्रिया श्रीनेत बोलीं

कल्याण सिंह के पार्थिव शरीर पर तिरंगे के ऊपर भारतीय जनता पार्टी का ध्वज रखे जाने पर कांग्रेस का आक्राम रुख बरकरार है।

कल्याण सिंह के पार्थिव शरीर पर तिरंगे के ऊपर भारतीय जनता पार्टी का ध्वज रखे जाने पर कांग्रेस का आक्राम रुख बरकरार है। समाचार चैनल आज तक के कार्यक्रम दंगल में इस मुद्दे पर कांग्रेस और बीजेपी के प्रवक्ताओं के बीच तीखी बहस देखने को मिली। कांग्रेस प्रवक्ता सुप्रिया श्रीनेत ने बीजेपी से पूछा कि जब कल्याण सिंह के पार्थिव शरीर पर तिरंगे के ऊपर भाजपा का झंडा लगाया जा रहा था तो क्या आपको तिरंगे का अपमान नहीं दिखा था। वहां तो प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मौजूद थे और जेपी नड्डा अपने हाथों से बीजेपी की पताका चढ़ा रहे थे। श्रीनेत ने पूछा कि कांग्रेस अध्यक्ष पर कार्रवाई क्यों नहीं हुई।

सुप्रिया श्रीनेत के बयान के बीच बीजेपी प्रवक्ता लगातार शर्म आने की बात कहते रहे। बीजेपी नेता द्वारा लगातार बोले जाने से कांग्रेस प्रवक्ता नाराज हो गईं, उन्होंने बीजेपी को निशाना साधते हुए कहा कि यह मौका हमें एक दूसरे से झगड़ने का नहीं है, आपने तिरंगे का तिरस्कार किया है, उसके लिए आपको माफी मांगनी चाहिए। उन्होंने कहा कि इस वक्त अफगानिस्तान में जो नाजुक हालातों पर नजर रखने और पाकिस्तान तथा चीन के साथ सतर्क रहने की है।

क्या है मामला: बताते चलें कि कल्याण सिंह के निधन के बाद जब उनके पार्थिव शरीर को अंतिम दर्शन के लिए रखा गया था तो बीजेपी के दिग्गज नेता पहुंचे थे। इस दौरान जब उनके शरीर को बीजेपी के झंडे से ढका गया था तो तिरंगा पहले से ही वहां मौजूद था। कई तस्वीरें सामने आई हैं जहां नजर आ रहा है कि पार्टी का झंडा, तिरंगे के ऊपर रख दिया गया था।

इस मामले पर राजनीतिक संग्राम का दौर जारी है, तस्वीरें सामने आने पर कांग्रेस समेत कई विपक्षी दलों ने भाजपा पर हमला बोलते हुए कहा था कि तिरंगे पर अपना झंडा रखकर BJP ने राष्ट्रीय ध्वज का अपमान किया है।

राष्ट्रध्वज से जुड़े नियम: राष्ट्र ध्वज को लेकर कुछ नियम बनाए हैं, ऐसे में इनका ख्याल रखा जाना जरूरी होता है। झंडे को फहराने से लेकर शव पर डालने के दौरान कुछ सावधानियां बरती जाती हैं। जैसे कि किसी भी झंडे या पताका को राष्ट्रीय ध्वज से ऊंचा नहीं लगाया जा सकता है। न ही किसी तरह के पुष्प माला या प्रतीक उसके ऊपर रखे जाने चाहिए।

Read More

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
%d bloggers like this: