POLITICS

सिंघु बॉर्डर पर हुई निर्मम हत्या पर बोले राकेश टिकैत

लखबीर की हत्‍या की जिम्मेदारी निहंग समूह निर्वेर खालसा-उड़ना दल ने ली। निहंग समूह ने कहा कि गुरु ग्रंथ साहिब की बेअदबी करने के कारण उसकी हत्या की गई।

दिल्ली से सटे सिंघु बॉर्डर पर किसानों के प्रदर्शन स्थल के पास से एक व्यक्ति का शव मिलने से सनसनी मची हुई है। मृतक व्यक्ति की पहचान पंजाब के तरनतारन जिले के लखबीर सिंह के रूप में हुई है। लखबीर सिंह की हत्या की जिम्मेदारी लेने वाले निहंग सरबजीत सिंह ने पुलिस के सामने सरेंडर कर दिया है। सिंघु बॉर्डर पर हुई निर्मम हत्या पर किसान नेता राकेश टिकैत ने प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि यहां हिंसा नहीं है। इस मामले में कानून अपना काम करे।   

किसान नेता राकेश टिकैत ने समाचार एजेंसी एएनआई से बातचीत के दौरान सिंघु बॉर्डर पर हुई हत्या के मामले में कहा कि जो हुआ है वो पूर्ण रूप से गलत है। संयुक्त किसान मोर्चा ने इस मामले में अपना बयान जारी कर दिया है। कानून अपना काम करेगा। देश में जो धाराएं और कानून हैं उसका पालन होगा। साथ ही राकेश टिकैत ने कहा कि घटना ठीक नहीं थी। यहां कोई हिंसा नहीं है। लोगों ने क्या किया है सबको पता है। घटना से नुकसान तो होता है लेकिन हमारा उससे कोई मतलब नहीं है।

शुक्रवार को घटना के बाद संयुक्त किसान मोर्चा ने बयान जारी कर हत्या की निंदा करते हुए मामले की क़ानूनी जांच करने की मांग की थी। संयुक्त किसान मोर्चा ने कहा था कि उनका इस घटना के दोनों पक्षों निहंग समूह या मृतक व्यक्ति से कोई संबंध नहीं है। हम किसी भी धार्मिक ग्रंथ या प्रतीक की बेअदबी के खिलाफ हैं। लेकिन इस आधार पर किसी भी व्यक्ति या समूह को कानून अपने हाथ में लेने की इजाजत नहीं है। हम यह मांग करते हैं कि इस हत्या और बेअदबी के षड़यंत्र के आरोप की जांच कर दोषियों को कानून के मुताबिक सजा दी जाए।

गौरतलब है की शुक्रवार सुबह को सिंघु बॉर्डर पर चल रहे किसान आंदोलन के मुख्य स्टेज के पास एक युवक का शव मिला था। शव को टेंट के पास लगे एक बैरिकेडिंग से लटका दिया गया।  शव का बायां हाथ कटा हुआ था। शव मिलने की जानकारी मिलते ही कुंडली थाने की पुलिस ने मौके पर पहुंच कर बैरिकेडिंग से शव को उतारा और पास के सिविल हॉस्पिटल लेकर गई।

बाद में मृतक व्यक्ति की पहचान पंजाब के तरनतारन जिले के रहने वाले लखबीर सिंह के रूप में की गई। लखबीर की हत्‍या की जिम्मेदारी निहंग समूह निर्वेर खालसा-उड़ना दल ने ली। निहंग समूह ने कहा कि गुरु ग्रंथ साहिब की बेअदबी करने के कारण उसकी हत्या की गई। हत्या के आरोपी निहंग सरबजीत सिंह ने पुलिस के सामने आत्मसमर्पण कर दिया। पुलिस ने शुक्रवार रात को ही उसे गिरफ्तार कर लिया। आरोपी निहंग सरबजीत सिंह को आज अदालत में पेश किया जाएगा।    

Read More

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
%d bloggers like this: