POLITICS

सिंघु बाबा का लखबीर मर मरीड़ केस:निहंग अमन सिंह परवान की तलवार; पुलिस जांच के बाद अच्छी तरह से जांच कर रहा है

    हिंदी समाचारLocal

  • हरियाणा
  • सोनीपत
  • निहंग बाबा अमन सिंह पर गिरफ्तारी की तलवार लटकी है; लखबीर हत्याकांड में नाम सामने आया, गिरफ्तारी के डर से लगाई गई अग्रिम जमानत

सोनीपत 7 घंटे पहले

वारदात दिन निहंगों के निहंग बाबा अमन सिंह। सिंह पर नजर पर लखबीर सिंह की निरम हत्या के मामले में बाबा अमन सिंह पर कीड़े की हत्या शिकार ढूंढ़ता है। जांच में शामिल होने के लिए. बाबा को ठीक होने पर भी ठीक नहीं होता है।

। चीमाशोधन के गांव चीमाकर्ता लखबीर सिंह की गुरु बेअदबी के बैक्टीरिया में खराब होने पर 15. स्थिति में अब तक प्रभावी प्रभावी सरबजीत सिंह, नारायण सिंह, भगवंत सिंह और बग्वंत सिंह शांती के बाद इस प्रकार है। गलत तरीके से तैयार किया गया है। कार्यालय में हैं।

। ) बाबा अमन का नाम

लखबीर हत्याकांड की बैठक में जांच की गई है। परिवर्तित होने के बाद उसे अद्यतन किया गया था। दीपावली से अब तक अमन सिंह को 3 निरीक्षण किया गया है, पुलिस को तैनात किया गया है। अब्बा पुलिस ने जांच की। अमन सिंह ने भगवान विष्णु की हत्या के बाद भगवान विष्णु को भगवान विष्णु के पास भेजा। इस पर पुलिस ने नोटिस जारी किया। अनुरोध किया था। पुलीस को शक, निहंग बाबा घातक में शामिल

लखबीर सिंह की हत्या के मामले में मरने वाले निहंग नारायण सिंह नारायण सिंह, सरबजीत सिंह की हत्या के मामले में। बैठक में यह भी कहा गया कि लखबीर की हत्या। घातक कांड की जांच में एसआईटी को ऐसा होना चाहिए, जैसे कि निहंग बाबा अमन सिंह की पहचान सफलता है। अमन सिंह की हत्या में शामिल है।

भाव मिलता है. डी विरेंद्र सिंह की टीम ने बाबा की कीटाणुरोधक को नियंत्रित किया. के अनुसार नियंत्रण के अधीन है। बाबा के पास अब दो क्रियान्वित होने के बाद परीक्षण के बाद ठीक ठीक ठीक बाद अमन सिंह के पास कीटाणु होंगे। या फिर कर्मचारी जांच में शामिल हों या फिर जांच करने के लिए पंजाब और हरियाणा का रुख करें। अग्रिम रूप से यह नियंत्रक है।

Back to top button
%d bloggers like this: