POLITICS

समर्थन देने वाले 25 मुल्कों को इजराइल ने अदा किया शुक्रिया, पर नहीं लिया भारत का जिक्र; लोग लगे पूछने

  1. Hindi News
  2. राष्ट्रीय
  3. समर्थन देने वाले 25 मुल्कों को इजराइल ने अदा किया शुक्रिया, पर नहीं किया भारत का जिक्र; लोग लगे पूछने- भारतीय ध्वज कहां है?

पिछले सात दिनों से चल रहे संघर्ष की वजह से दोनों देशों को काफी नुकसान हुआ है. लेकिन फिलिस्तीन सबसे ज्यादा प्रभावित है। इस संघर्ष में अब तक करीब 9 इजरायली और 117 फिलिस्तीनी मारे जा चुके हैं।

conflict, israel, palestineभारत के विदेश मंत्रालय की तरफ से इजरायल और फिलिस्तीन के बीच चल रही हिंसा पर कोई आधिकारिक बयान नहीं आया है। (फोटो – रायटर्स)

पिछले 7 दिनों से इजरायल और फिलिस्तीन के बीच संघर्ष जारी है। इस जंग में अब तक करीब 126 लोग मारे जा चुके हैं। इनमें 31 बच्चे भी शामिल हैं। इसी बीच इजरायल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू ने ट्वीट कर समर्थन देने वालों देशों का शुक्रिया जताया है। लेकिन इसमें भारत का जिक्र नहीं किया गया है। बेंजामिन नेतन्याहू के इस ट्वीट पर भारतीय लोग उनसे सवाल पूछने लगे कि इसमें भारतीय ध्वज कहां है?

रविवार को इजरायल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू ने एक ट्वीट किया। इसमें लिखा गया कि इजरायल के साथ मजबूती से खड़े रहने के लिए और आतंकवादी हमलों के खिलाफ आत्मरक्षा के अधिकार का समर्थन करने के लिए धन्यवाद। इस ट्वीट में समर्थन करने वाले देशों का झंडा भी चस्पा किया गया था। लेकिन इस ट्वीट में भारत का झंडा शामिल नहीं था। प्रधानमंत्री नेतन्याहू के इस ट्वीट पर लोगों ने अपनी प्रतिकिया देनी शुरू कर दी और पूछना शुरू कर दिया कि आखिर भारतीय झंडा कहां है।

Thank you for resolutely standing with and supporting our right to self defense against terrorist attacks.

— Benjamin Netanyahu (@netanyahu) May 15, 2021

भारत सिंह नाम के एक ट्विटर हैंडल ने प्रतिक्रिया देते हुए लिखा कि सर कृपया भारत के झंडे को भी इसमें शामिल करें। भारत के लोग हमेशा से इजरायल का ही समर्थन करते हैं. वहीं दीपिका नाम की एक सोशल मीडिया यूजर ने लिखा कि भारत ने आधिकारिक तौर पर अपना समर्थन नहीं दिया है लेकिन यहां के लोग इजरायल के साथ खड़े हैं। इसके अलावा ट्विटर यूजर अमित अग्रवाल ने भी ट्वीट करते हुए लिखा कि इस ट्वीट में भारतीय झंडा नहीं दिखाई दे रहा है लेकिन बेंजामिन नेतन्याहू इजरायल के प्रति भारत के प्यार को समझते हैं।

बता दें कि भारत के विदेश मंत्रालय की तरफ से इजरायल और फिलिस्तीन के बीच चल रही हिंसा पर कोई आधिकारिक बयान नहीं आया है। लेकिन भारत की सत्ताधारी पार्टी के कई नेता और समर्थक लगातार इजरायल के समर्थन में सोशल मीडिया पर अपनी सक्रियता बनाए हुए हैं। हालांकि संयुक्त राष्ट्र में भारत के स्थायी प्रतिनिधि टीएस तिरुमूर्ति ने पिछले दिनों कहा था कि दोनों पक्षों को जमीन पर यथास्थिति बदलने से बचना चाहिए। साथ ही उन्होंने कहा था कि तत्काल हिंसा खत्म करने और तनाव घटाने की ज़रूरत है। 

पिछले सात दिनों से चल रहे संघर्ष की वजह से दोनों देशों को काफी नुकसान हुआ है. लेकिन फिलिस्तीन सबसे ज्यादा प्रभावित है। इस संघर्ष में अब तक करीब 9 इजरायली और 117 फिलिस्तीनी मारे जा चुके हैं। करीब 950 से ज्यादा लोग इस हमले में घायल भी हुए हैं. रविवार को भी अहले सुबह इजरायल ने गाजा में हमास के प्रमुख के घर पर बमबारी की। इसके जवाब में हमास ने भी तेल अवीव में रॉकेट दागे। इजरायल की ओर से की गई एयर स्ट्राइक में चार फिलिस्तीनी नागरिकों की मौत हुई है और कई लोग घायल हुए हैं। शनिवार को गाजा पट्टी पर एक हवाई हमले में इजरायल ने अल-जजीरा टेलीविजन और अमेरिकी समाचार एजेंसी द एसोसिएटेड प्रेस की 13 मंजिला इमारत को नष्ट कर दिया। 

इजरायल ने  फिलिस्तीन के साथ चल रहे संघर्ष के लिए हमास को दोषी ठहराया है। शनिवार को देशवासियों को संबोधित करते हुए इजरायल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू ने कहा कि  ये लड़ाई आतंक के खिलाफ है। हमारी पूरी कोशिश रहेगी कि इससे नागरिकों की जान खतरे में न पड़े। अभी हम ऑपरेशन के बीच हैं, यह खत्म नहीं हुआ है और जब तक जरूरी होगा यह ऑपरेशन चलता रहेगा।

  • TMC,Mamta Banerjee, Bengal

Read More

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
%d bloggers like this: