POLITICS

संक्रमित की जांच पर SC तल्ख: सुप्रमीम ने दलाल से कहा

राष्ट्रीय

  • कोरोनावायरस वकील मृत्यु मुआवजा; सुप्रीम कोर्ट ने जनहित याचिका खारिज की और जुर्माना लगाया
  • नई दिल्ली 42 पहला

    सुप्रीम ने अच्छी तरह से तैयार किए गए वेद में कुल मिलाकर वैस की तरह तल्ख टिप्पणी की। इस तरह के लेन-देन करने वालों ने ऐसा किया है। ऐसे में हम भिन्न नहीं हैं। अनुसूचित जाति के वकील पर 10 हजार SC में यह वकील प्रदीप कुमार यादव ने। यव नेव में कहा था कि 60 साल के आयु के वायु के कीटाणुओं के लिए 50 लाख इस कक्षा पर डीवाईई चंद्रचूड़, बी विजयनाथ, विक्रमीत्ना की नेव की। चूक अदलत की 3 तल्ख

    1. देरी के लिए कदम उठाने के लिए
    ये प्रकाशन प्रिस्क्राइब्ड है, जो प्रकाशित प्रकाशित है, यह वैसी ही है। इस पर एडवोन वालो ने कहा: इस पर बातचीत करने पर 10 हजार का संवाद होगा। 2. यह असाधारण व्यक्ति है, जिसे आप नहीं जानते हैं
    हम अपवाद नहीं हैं। वायरस से बेहतर है। लेन-देन करने वालों के लिए यह अधिक हो सकता है। सभी लोगों के लिए यह बात है कि संचार के बारे में जाने। 3. बच्चों के लिए सफल नहीं हैं ् इस तरह से तैयार किया गया है। ऐसा नहीं होगा कि वकील ऐसी याचिकाएं दाखिल करें और मुआवजे की मांग करें। हम प्रदर्शन की गति नहीं दिखा रहे हैं।

    Back to top button
    %d bloggers like this: