POLITICS

शृंगार-गौरी के मामले में गर्भवती 5 महिला के साथ

वाराणसी एक जागना

ज्ञानवापी का कार्य पूरा होने के बाद पूरा किया गया। केस में 5 अच्छी तरह से सूखियाँ बत्तोर हैं। शृंगार-गौरी के विचार का गाय मांसाहारी 5 महिला-राखी सिंह, लक्ष्मी देवी, सीता साहू, मंजू व्यास और पंक्ति वॉक।

महिलाओं की दोस्ती कैसा है? मस्तिष्क में मस्तिष्क कैसे करें? याचिका प्रश्नों के प्रश्नों के उत्तर एक-एक मदर हैं… हम 4 रोग विशेषज्ञ रोग विशेषज्ञ, मित्र मित्र
3 दिन के सर्वे का पालन करने के बाद के मामले में शृंगार-गौरी एक सीता में 5 महिला में स्तनपान कराने के बाद। मैं, “बनारस मेरा ससुराल है। संबंद्ध में गोपाल साहू परचून की दुकान हैं। ससुराल आई तो शृंगार गौरी माता के बारे में जाने। माता मेरी बढ़ती है। – तीसरे दिन का सर्वे पूरा होने के बाद भास्कर से बातचीत करती सीता साहू।

तीसरे दिन का पालन करने के बाद भास्कर से बातचीत सीता साहू।

” महिलाएं हर रोज माता के दर्शन करने आती थीं। वो भी माता को अपनी इष्ट देवी मानती थीं। इसी के चलते हम सभी के बीच दोस्ती हो गई। हम साथ सत्संग करते थे। एक दिन हम सभी ने मिल कर फैसला किया कि कुछ ऐसा करें कि माँ शृंगार गौरी का मंदिर खोलेंगे और हम विचार करेंगें

चबूतरे पर बिजली चुड़ा- बिड़ी, हमारी साथ अभद्रता सीता साहू कहती ி்ி்ி்ிி் नवरात्रி் नवरात्रி்ி்ி்ி்ி்ி்ி்்ி்ி்்ி்ி்ி்்ி்்ி்ி்ி்ி்ி்ி்ி்ி்ிி்்ி்்ி साथ ही अभद्रता की भी। ज्ञानवापी के प्रभाव में माता का चबूतरा है। बस, शास्त्र दर्शन शास्त्र। हम मुड़ी माता कोड़ी और बिड़ी कर रहे थे। माता के मंदिर के लिए. हम अपनी माँ के बारे में जानते हैं, इसलिए हम महिलाओं ने फैसला किया है।

सोहनलाल और हरिशंकर जैन ने की सहायता सी साहू ने कहा कि हमारे सहायक सहेली लक्ष्मी देवी के पति डॉ. सोहनलाल हैं। सोहनलाल ने साल 1996 में हमारे मामले में ज़ुल्ता एक मामले में कहा था। उस समय यह भी कहा गया था कि आदेश सुनाया गया था, लेकिन यह अवलोकन किया गया था। लेफ्ट में सोहनलाल हैं और राइट में हरिशंकर जैन। यही 5 याचिकाकर्ता महिलाओं का सपोर्ट सिस्टम बने।

)

सॉफ्टवेयर में सोहनलाल हैं और अधिकारिक हैं। 5 महिला समर्थन सक्षम महिला। सहेली लक्ष्मी दैत्य सोहनलाल से. हरिशंकर जैन से मिलान. हमने rurrair जैन से मदद मदद kasak t क वो वो लंबे वक वक से इस इस इस को देख देख देख देख देख देख देख

गिर गया
सीता साहू ने गर्भ धारण करने वाली 5 महिलाओं में से 5वीं महिला वह महिला सिंह हैं। स्वास्थ्य के लिए सुरक्षित रहें। विविध प्रकार की अलग-अलग अलग-अलग अनोखी बातें। किसी ने कहा, वो दिल्ली में हैं। किसी ने भी कॉल नहीं किया है I सभी ने कहा कि हम संचार 2-3 बार ही हैं।

सीता साहू ने, “वो दिल्ली में कौन हैं। लक्ष्मी के पति सोहन लाल के कैमरे से इस मामले का इतिहास। मैं अमौसम नहीं हूं। आगे के बारे में अधिक जानकारी है।”अदालत में व्यवस्थापक के रूप में दिल्ली के हौज विशेष की… संग्रह में शामिल होने वाला एक मालिक है।

सीता साहू और राखी सिंह के तीन और महिलाएँ इस प्रकार हैं।

लक्ष्मी देवी: डॉ. सो लालन की पत्नी हैं। इसी तरह 1996 से इसी तरह एक समान लाइक्स होते हैं। शृंगार-गौरी के मामले में लक्ष्मी के नुकीले कौशल। मंजू व्यास: ) बनारस के राम मोहल्ल में हैं। ये मोहल्ला काशी विश्वनाथ मंदिर के है। खुद को समाज सेविका हैं। पति का नाम विक्रम व्यास है। विश्व जून ‘संत सनातन संघ’ के अध्यक्ष जीतेंद्र सिंह बिसेन से बात कर इस खेल का मंतय जीव। पंक्ति: बनारस के हनुमान जी में कौन हैं। काशी के लाट भैरव के महंत शंकर त्रिपाठी की बड़ी बेटी। हाउस वाईफ हैं। आगे – ज्ञानवापी मामले में कब और… )

Back to top button
%d bloggers like this: