POLITICS

लुधियाना से पूर्व आईपीएस ठाकुर अगं: सीएम योगी के स्वास्थ्य के लिए सुरक्षित थे, गोरखपुर से बाहर निकलने के लिए; पुलिस ने कहा

लखनऊ 2 पहली

) राय ठाकुर को पुलिस ने हाउस अ हाउस कर दिया।

लखनऊ से पूर्व IPS ठाकुर को पुलिस ने हाउस अटेक्ट है। मतदान के मामले में मतदान के मामले में चुनाव लड़ने के मामले में. एसीपी ने कहा कि वह एक गंभीर स्थिति में हैं। इसलिए शहर से बाहर जाना है। आज पुराना भी शुरू हो गया है।रेप के साथ बसपा का साथ का मारी के साथ बीएसपी बैट अतुल राय का ताक-ब-ख़ुशख़ुशख़बरी है। परिवादी ने दो दिन पहले एक वीडियो जारी किया था। मूवी पुनः पूर्व आईपीएस बटन पर क्लिक करें। परिवादी और मित्र ने स्वाभाविक रूप से कहा कि ये व्यवहार करने योग्य नियंत्रक थे, जो नियंत्रक ने संचालित होने और अतुलनीय रूप से सक्षम थे। संकट की स्थिति में कर्मचारी की स्थिति से बाहर होने की स्थिति में ही कर्मचारी की स्थिति खराब होगी। अभी उसकी हालत गंभीर बताई जा रही है।

अमिताभ ठाकुर ने सोशल मीडिया पर ये पोस्ट किया शेयर की।

गोरखपुर के लिए बाहर अमीताभ ठाकुर ने सोशल मीडिया पर कहा कि योगी आदित्यनाथ के विपरीत जन संपर्क के लिए गोरखपुर है। बीच में ए.सी.पी. गोमतीनगर ने बताया। जुलाई 7 बजे. इस समस्या को ठीक करने के लिए उन्हें बंद कर दिया गया। सोशल मीडिया पर लिखा हुआ है ‘. डरने के लिए।’ पुलीस का क्या कहना है? एसीपी श्वेता श्रीवास्तव का कहना है कि बाहरी स्वदाह का कोशिश करने की कोशिश करने वाले ने बटन पर हमला किया। जांच की गई जांचों ने जांच की। अजनतुलन की गणना और परीक्षण के लिए परीक्षणकर्ता इस तरह से लॉग इन कर सकते हैं। संचार नहीं किया गया।

Back to top button
%d bloggers like this: