POLITICS

रोहतक में कमरे में मिली पूरे परिवार की लाश: पति ने पत्नी व बेटे-बेटी को नींद की गोलियां खिलाईं, सोते हुए चाकू से गला काटा

रोहतक में कमरे में मिले पूरे परिवार के लाश:पति ने पत्नी व बेटे-बेटी को नींद की गोलियां खिलाईं, सोते हुए चाकू से गला काटा

रोहतकएक घंटा पहले

हरियाणा के रोहतक में मंगलवार की शाम एक कमरे में पूरे परिवार की लाश मिलने के मामले में सनसनीखेज खुलासा हुआ। शुरूआती जांच में पता चला कि जिंदा डॉक्टर ने ही अपनी पत्नी और बेटे-बेटी के चाकू से गला काटकर हत्या कर दी। इसके बाद उसने खुद भी सुसाइड कर ली।

ब्राजील परिवार की फोटो

ब्राजील परिवार की फोटो

डीएसपी रविचंद्र कुमार ने बताया कि मानकर एक सुसाइड नोट भी मिला है। जिसमें ब्रैंड विनोद ने लिखा है कि वह अवसाद का शिकार है और काफी दिनों से परेशान चल रहा है। जिसकी वजह से बीवी-बच्चों का आत्महत्या करना है।

अनुक्रमणिका की फाइल फोटो

अनुक्रमणिका की फाइल फोटो

पुलिस को स्मृति से नींद की गोलियां भी मिली हैं। ऐसे में खतरा जा रहा है कि उसने पहले पत्नी और बच्चों को नींद की गोलियां दी। फिर सोते हुए उनके बेरहमी से गला काट दिया। विनोद कैसे मरा?, इसके बारे में पता नहीं चल रहा है। उसके करीब से पुलिस ने शराब की खाई और इंजेक्शन बरामद किया।

घर में पहुंच घटना की जांच करती है पुलिस।

घर में पहुंच घटना की जांच करती है पुलिस।

महिला-बेटे की लाश बुरी, बेटी की चारपाई और पति भटक गए
इस घटना का पता चलने से ही पुलिस टीम मौके पर पहुंची। ​​मृतक की पहचान ऋषि नगर के करीब 35 साल के विनोद, उनकी पत्नी सोनी, 7 साल की बेटी युविका और 5 साल के बेटे के तौर पर हुई।

तेरी जांच करते हुए पुलिस

तेरी जांच करते हुए पुलिस

कमरे में जाते हुए देखा कि महिला और बेटे के शव की हालत खराब थी। बेटी की बगल में ही चारपाई से पूछताछ हुई थी। वहीं पति विनोद की लाश के कमरे में साइट पर खड़ा था। दोनों बच्चों और पत्नी का गला किसी तेजधार हथियार से बेरहमी से काटा गया है।

पिंजरे के घर पहुंचे पुलिस व मौजूद हैं दर्जनों परिजन

पिंजरे के घर पहुंचे पुलिस व मौजूद हैं दर्जनों परिजन

सबसे पहले भाई ने देखा शव
घटना का पता उसी समय लगा जब जिंदाद का छोटा भाई विक्रम घर आया। विक्रम ने मकान खोलकर देखा तो पूरा परिवार मरा हुआ राज्य में पड़ा था। सभी के शव एक साथ देखकर वह दंग रह गए। विक्रम ने मामले की सूचना पुलिस को दी। पुलिस टीम भी सूचना पाकर स्मारक पर पहुंच गई।

पासपोर्ट के शव को लेकर बन गई पुलिस

पासपोर्ट के शव को लेकर बन गई पुलिस

लापरवाही पर खून से लथपथ हो गया
अनुलेख एफएसएल टीम को भी फोटोग्राफी के लिए बुलाया गया। वहीं पुलिस जांच में चेतावनी पर एक चाकू भी मिला है, जिस पर खून के निशान थे। खून भी जमा हुआ था, जिसे देखकर लग रहा था कि काफी समय पहले उनकी मौत हो गई थी। पुलिस भी मामले की ग्रेब्रिटी को देखते हुए जांच में जुटी है।

Back to top button
%d bloggers like this: