POLITICS

योगी आदित्यनाथ ने यूपी में कैसा काम किया? एंकर ने किया सवाल तो राकेश टिकैत ने दिया ऐसा जवाब

किसान नेता राकेश टिकैत से मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के विषय में सवाल किया गया और पूछा गया कि उन्होंने यूपी में कैसा काम किया?

उत्तर प्रदेश में होने वाले विधानसभा चुनाव में अब ज्यादा वक्त नहीं रह गया है। सभी पार्टियां गद्दी पाने के लिए एड़ी चोटी का जोर लगा रही हैं। इस बीच किसान नेता राकेश टिकैत भी काफी सक्रिय नजर आ रहे हैं। हालांकि उन्होंने यह पहले ही साफ कर दिया है कि वह न तो किसी के साथ चुनाव लड़ेंगे और न ही किसी पार्टी का प्रचार करेंगे। यूपी में चल रही सियासी हलचलों को लेकर किसान नेता राकेश टिकैत ने आजतक को भी इंटरव्यू दिया, जहां उनसे मुख्यमंत्री योगी और उनके कामों के बारे में पूछा गया।

भारतीय किसान यूनियन नेता राकेश टिकैत से सवाल करते हुए न्यूज एंकर चित्रा त्रिपाठी ने कहा, “योगी जी ने बीते पांच सालों में यूपी के लिए कैसा काम किया है?” उनका जवाब देते हुए किसान नेता ने कहा, “हमने यह कहा कि योगी जी ने कहां काम किया। उन्होंने साढ़े तीन काम किये हैं। गन्ने पर तो वह तीसरे नंबर पर रहे। पहले नंबर पर मायावती थीं और दूसरे नंबर पर अखिलेश यादव रहे, जिन्होंने 65 रुपये कीमत बढ़ाई।”

किसान नेता राकेश टिकैत ने अपने बयान में आगे कहा, “योगी जी ने मात्र 25 रुपये बढ़ाए। जो काम करेगा, वो दिखेगा। गन्ने का भुगतान नहीं होता, बिजली के रेट पूरे देश में सबसे महंगे उत्तर प्रदेश में हैं।” उनकी बात पर सवाल दागते हुए न्यूज एंकर ने कहा, “घटा तो दिया दामों को?”

न्यूज एंकर का जवाब देने से खुद राकेश टिकैत भी पीछे नहीं हटे। उन्होंने कहा, “क्या घटाया? ये कहा कि इसमें छूट देंगे। लेकिन वह छूट एक महीने की है, चुनाव तक है या ढाई महीने की। वह उसी में लिख देते कि हमने बिल में पचास प्रतिशत की कटौती कर दी। बिल इतने रुपये कम हो गए। ये बहकाने का काम बहुत करते हैं।” राकेश टिकैत की बात पर न्यूज एंकर ने अखिलेश यादव से जुड़ा सवाल पूछ लिया।

चित्रा त्रिपाठी ने भाकियू नेता से पूछा, “और जो अखिलेश यादव ने वादा किया है कि 300 यूनिट बिजली फ्री देंगे, वो?” इसका जवाब देते हुए किसान नेता राकेश टिकैत ने कहा, “उनकी जब सरकार आ जाएगी, तब देख लेंगे। वो नहीं करेंगे तो उनके खिलाफ भी आंदोलन होगा।” न्यूज एंकर द्वारा चुनाव के सिलसिले में पूछे जाने पर उन्होंने कहा, “हम तो चुनाव लड़ नहीं रहे।”

Read More

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
%d bloggers like this: