POLITICS

यूपीः पुलिस ने 25 सौ लोगों पर दर्ज की FIR, जानें सपा मुख्यालय पर जुटी भीड़ को लेकर क्या कहा

चुनाव आयोग ने कोविड -19 मामलों में ताजा उछाल का हवाला देते हुए, पांच चुनावी राज्यों में 15 जनवरी तक सार्वजनिक रैलियों, रोड शो और मीटिंग पर प्रतिबंध लगा रखा है।

यूपी पुलिस ने समाजवादी पार्टी के 2500 कार्यकर्ताओं के खिलाफ केस दर्ज किया है। यह एफआईआर चुनाव आयोग के निर्देश पर दर्ज की गई है। बताया जा रहा है कि लखनऊ में शुक्रवार को सपा की वर्चुअल रैली में सैकड़ों कार्यकर्ता मौजूद थे, इसीलिए ये एफआईआर दर्ज की गई है।

बता दें कि शुक्रवार को बीजेपी नेता स्वामी प्रसाद मौर्य, धर्म सिंह सैनी समेत कई नेता सपा में शामिल हो गए हैं। इसी से संबंधित एक कार्यक्रम में अखिलेश यादव समेत कई बड़े नेता मौजूद थे। कहने के लिए तो ये सपा की वर्चुअल रैली थी, लेकिन इसमें काफी संख्या में कार्यकर्ता भी मौजूद थे।

इस कार्यक्रम के वीडियो सामने आने के बाद इसकी काफी आलोचना होने लगी। चुनाव आयोग ने कोविड -19 मामलों में ताजा उछाल का हवाला देते हुए, पांच चुनावी राज्यों में 15 जनवरी तक सार्वजनिक रैलियों, रोड शो और मीटिंग पर प्रतिबंध लगा दिया है। इसके उल्लघंन पर कड़ी कार्रवाई करने का आदेश भी दे रखा है। यही कारण है कि यूपी पुलिस ने चुनाव आयोग के निर्देश पर ये मामले दर्ज किए हैं।

एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया कि समाजवादी पार्टी कार्यालय में भारी भीड़ जमा होने के संबंध में प्रतिबंधात्मक आदेशों के उल्लंघन और महामारी अधिनियम के उल्लंघन के लिए गौतम पल्ली पुलिस स्टेशन में प्राथमिकी दर्ज की गई है। लखनऊ जिला प्रशासन के एक वरिष्ठ अधिकारी ने समाचार एजेंसी पीटीआई को बताया- “प्रथम दृष्टया, कोविड​​​​-19 मानदंडों का उल्लंघन हुआ था, और जांच चल रही है। जिला प्रशासन और पुलिस के अधिकारियों की एक टीम वहां गई थी।”

लखनऊ के जिलाधिकारी ने पहले कहा था कि समाजवादी पार्टी की रैली बिना अनुमति के हो रही है। जिसके बाद पुलिस टीम को सपा कार्यालय भेजा गया और इस संबंध में आवश्यक कार्रवाई करने के लिए कहा गया। इस मामले पर समाजवादी पार्टी यूपी के प्रमुख नरेश उत्तम पटेल ने कहा- “यह हमारे पार्टी कार्यालय के अंदर एक वर्चुअल रैली थी। हमने किसी को नहीं बुलाया लेकिन लोग आए। लोग कोरोना प्रोटोकॉल का पालन कर काम कर रहे हैं। भीड़ बीजेपी के मंत्रियों के घर और बाजारों में भी है, लेकिन उन्हें हमसे दिक्कत है।”

Read More

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
%d bloggers like this: