POLITICS

महाराष्ट्र: मार्च 2020 के बाद पहली बार सबसे कम कोरोना मरीज आए सामने, मौतों का ग्राफ भी गिरा 

महाराष्ट्र: मार्च 2020 के बाद पहली बार सबसे कम कोरोना मरीज आए सामने, मौतों का ग्राफ भी गिरा 

राज्य में कुल सक्रिय मरीजों की संख्या 23,184 हो गई है.

मुंबई:

महाराष्ट्र (Maharashtra) में 24 घंटों में कोरोना वायरस (Covid Cases) के कुल 889 मामले सामने आए हैं. यह आंकड़ा पिछले साल मार्च (March 2020) में महामारी की पहली लहर शुरू होने के बाद से अब तक सबसे कम है. वहीं राज्य के 14 जिलों में 24 घंटे में शून्य मामले दर्ज किए गए हैं, जबकि 12 जिलों में 10 से कम मामले सामने आए हैं.

आकंड़ों के मुताबिक 24 घंटों में 12 लोगों की मौत हुई हैं. यह भी 34 सप्ताह में सबसे कम है. ये मौतें मुंबई, ठाणे, पुणे और रत्नागिरी में हुई हैं. 24 घंटे में 84,460 कोविड टेस्ट किए गए हैं, जो लगभग 18 फीसदी कम हैं. वहीं राज्य में कोरोना की पॉजिटिविटी दर अब 1 फीसदी है. इस दौरान 1,586 मरीजों को ठीक होने पर अस्पतालों से डिस्चार्ज कर दिया गया. इसके साथ ही राज्य में कुल सक्रिय मरीजों की संख्या 23,184 हो गई है.

भारत में कोविड-19 रोधी टीके की अब तक 102.8 करोड़ से अधिक खुराक दी गई : स्वास्थ्य मंत्रालय

बता दें कि कोरोना संक्रमण से सबसे अधिक प्रभावित राज्यों में शामिल महाराष्ट्र में 18 अक्टूबर को ही कोविड प्रतिबंधों से कुछ ढील दी गई है. इसमें आधी रात तक रेस्तरां खोलने और दुकानों को खोलने की समय सीमा बढ़ाना शामिल है. इसके अलावा गत शुक्रवार राज्य में एम्यूजमेंट पार्क आगंतुकों के लिए खोल दिए गए थे. हालांकि पानी वाली झूलाओं पर फिलहाल प्रतिबंध है. इसके साथ ही पिछले शुक्रवार से कोविड गाइडलाइन के साथ सिनेमा घरों को भी खोलने की अनुमति दे दी गई है.

विदेशों में तबाही मचा चुके कोरोना के वेरिएंट की भारत के दो राज्यों में मौजूदगी

Back to top button
%d bloggers like this: