POLITICS

महाराष्ट्रः इधर मुंबई में बीजेपी की बूस्टर डोज रैली, उधर औरंगाबाद में दहाड़े राज ठाकरे, जानें उद्धव ने कैसे किया पलटवार

मुंबई की एक रैली में पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने दावा किया कि बाबरी विध्वंस में शिवसेना का कोई नेता शामिल नहीं था।

महाराष्ट्र में इस रविवार को दो बड़ी रैली हुई। एक औरंगाबाद में मनसे अध्यक्ष राज ठाकरे की तो दूसरी मुंबई में बीजेपी की। इन दोनों ने शिवसेना गठबंधन की सरकार और सीएम उद्धव पर जमकर निशाना साधा है। हालांकि उद्धव भी चुप नहीं रहे हैं और उन्होंने रैली से पहले ही दोनों पार्टियों पर जमकर हमले किए।

देवेंद्र फडणवीस- महाराष्ट्र में विपक्ष के नेता देवेंद्र फडणवीस ने रविवार को शिवसेना को आड़े हाथ लिया और कहा कि जो लोग मस्जिदों से लाउडस्पीकर हटाने से डरते हैं, वे कह रहे हैं कि उन्होंने बाबरी को गिरा दिया। बीजेपी की रैली में पूर्व सीएम ने कहा- “देवेंद्र फडणवीस बाबरी मस्जिद के विध्वंस का हिस्सा था। तब कोई शिवसेना नेता नहीं था”।

राज ठाकरे- मनसे अध्यक्ष राज ठाकरे इन दिनों बीजेपी के सुर में सुर मिलाते दिख रहे हैं। बीजेपी के साथ-साथ राज ठाकरे भी शिवसेना के हिन्दुत्व पर सवाल उठा रहे हैं। राज ठाकरे ने ही इस बार लाउडस्पीकर पर अजान के जवाब में हनुमान चालीसा विवाद को हवा दी है। इसी क्रम में उन्होंने रविवार को औरंगाबाद में रैली की।

इस रैली में राज ठाकरे ने शिवसेना पर जमकर हमला बोला। सुप्रीम कोर्ट का हवाला देते हुए राज ठाकरे ने मस्जिदों में लाउडस्पीकर के इस्तेमाल पर अपनी चेतावनी दोहराई। ठाकरे ने कहा कि अगर 3 मई तक मस्जिदों से लाउडस्पीकर नहीं हटाया गया तो वह लाउडस्पीकर पर हनुमान चालीसा का पाठ करेंगे। उन्होंने कहा- “वह 4 मई से किसी की नहीं सुनेंगे। लाउडस्पीकर नहीं हटाए गए तो दोगुनी आवाज में हनुमान चालीसा बजाया जाएगा”।

इसके साथ ही मनसे अध्यक्ष ने एनसीपी नेता शरद पवार पर भी जमकर निशाना साधा। उन्होंने कहा- “शरद पवार अपनी बेटी के अनुसार नास्तिक हैं। समाज में नफरत फैला रही उनकी पार्टी ने कभी शिवाजी का सम्मान नहीं किया। शरद पवार को बाल ठाकरे की किताबें पढ़नी चाहिए”।

उद्धव ठाकरे- महाराष्ट्र के सीएम उद्धव ठाकरे ने अपने चचेरे भाई राज ठाकरे की रैली पर तंज कसते हुए कहा कि ये अस्तित्व बचाने की कोशिश है। लाउडस्पीकर के मुद्दे पर मनसे पर निशाना साधते हुए ठाकरे ने कहा कि कुछ लोग ऐसे हैं जो झंडे बदलते रहते हैं। उन्होने कहा- “पहले, उन्होंने गैर-मराठी लोगों पर हमला करने की कोशिश की। अब वे गैर हिंदुओं पर हमला कर रहे हैं। मार्केटिंग का जमाना है। ये भी नहीं चला तो कुछ और। सुप्रीम कोर्ट ने लाउडस्पीकर पर आदेश दिया है। मुझे नहीं लगता कि उन्होंने किसी एक धर्म के बारे में कहा है। दिशानिर्देश सभी धर्मों के लिए हैं”।

Read More

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
%d bloggers like this: