POLITICS

मराठी गाना नहीं रजिस्टर पर होटल मैनेजर की पिटाई, VIDEO:मुंबई में मनसे का मामला प्रचार किया

  • राष्ट्रीय
  • मुंबई मनसे कार्यकर्ता गुंडागर्दी वीडियो फुटेज; बीजेपी ने कार्रवाई की मांग की | नवी मुंबई मुंबई2 घंटे पहले
  • कॉपी लिंक
  • वीडियो
  • मुंबई में मनसे के अभ्यर्थी की गुंडागर्दी का मामला सामने आया है। यहां एक होटल में मराठी गाने को लेकर मनसे कार्यकर्ता ने होटल के मैनेजर को प्रचारित मार दिया। घटना बुधवार की रात नवी मुंबई के वाशी इलाके की है। पुलिस ने दशक के खिलाफ कार्रवाई अभी तक नहीं की है। भाजपा ने कार्रवाई की मांग की है। मराठी गानों को लेकर नहीं हुआ विवादघटना का वीडियो भी सामने आया है। इसमें मनसे के कुछ कार्यकर्ता होटल द टेस्ट ऑफ पंजाब में इंटर करते हैं। एक महिला कार्यकर्ता प्रबंधक से बोलती है कि रजिस्टर में वह मराठी साइन इन पार्टी की बुकिंग दिखाती है। होटल मैनेजर ने मना कर दिया। उनका कहना था कि वे सिर्फ बुकिंग करने वाले को लिस्ट दिखाएंगे।मनसे आरक्षण में एक ने कहा कि हम महाराष्ट्र में हैं और केवल मराठी गाने काम करेंगे, लेकिन मैनेजर ने कहा कि यहां सिर्फ हिंदी, अंग्रेजी और पंजाबी गाने ही बजेंगे। इस पर दोनों पक्षों के बीच बहस शुरू हो जाती है। फिर मनसे कार्यकर्ता प्रबंधक प्रचार करता है।
    मनसे कार्यकर्ता और होटल मैनेजर के बीच कैमरे में रिकॉर्ड हो गई टक्कर भाजपा बोली- हम गुंडागर्दी नहीं देंगेमामला ने तूल पकड़ा तो बीजेपी ने मनसे पर फोकस साधा। बीजेपी विधायक राम कदम ने कहा- हम किसी भी तरह की गुंडागर्दी नहीं देंगे, चाहे वह किसी भी पार्टी का कार्यकर्ता या नेता हो। उन्होंने कहा कि कानून अपना काम करेगा। हम किसी को भी कानून अपने हाथ में नहीं लेने देंगे। यह ठाकरे की सरकार नहीं है, राज्य को एकनाथ शिंदे और देवेंद्र फडणवीस चले हैं। हम इसके खिलाफ कड़ी कार्रवाई करेंगे।एनसीपी नेता ने हर हर महादेवों की स्क्रीनिंग रोक दी थी कुछ दिन पहले NCP नेता जितेंद्र आव्हाड पर एक महिला से छेड़छाड़ करने का भी आरोप लगा था। कुछ दिन पहले एनसीपी नेता जितेंद्र आव्हाड पर एक महिला से छेड़छाड़ करने का भी आरोप लगाया था।
    हाल ही में पूर्व कैबिनेट मंत्री और एनसीपी नेता जितेंद्र आव्हाड को पुलिस ने मराठी फिल्म की स्क्रीनिंग रोक दी और एक व्यक्ति को पीटने के आरोप में गिरफ्तार कर लिया। जानकारी के अनुसार वे अपने जाम के साथ ठाने के एक मॉल में घुस गए और मराठी फिल्म- हर हर महादेव की स्क्रीनिंग को जबरन रुकवा दिया था। एक शख्स ने विरोध किया तो उसके साथ मारपीट भी की थी। बाद में मुंबई की एक अदालत ने उन्हें जमानत दे दी थी।

    Back to top button
    %d bloggers like this: