POLITICS

मन की बात का 95वां एपिसोड:पीएम मोदी गुजरात चुनाव पर कर सकते हैं चर्चा, पिछली बार सोलर एनर्जी में रखते थे विचार

नई दिल्ली2 घंटे पहले

मन की बात का पहला एपिसोड 2014 में टेलीकास्ट हुआ था।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी रविवार सुबह 11 बजे ‘मन की बात’ करेंगे। इस कार्यक्रम के माध्यम से पीएम देश के लोगों को संदेश देंगे। मन की बात का यह 95वां एपिसोड होगा। पीएम हर महीने आखिरी रविवार को ये कार्यक्रम करते हैं। इसमें पिछले एक महीने में हुई घटनाओं का उल्लेख करते हैं और आने वाले ऐतिहासिक कार्यक्रमों की चर्चा करते हैं।

इस बार पीएम विज्ञान भवन में मनाई गई सेनापति की 400वीं जयंती, संविधान दिवस को लेकर बात कर सकते हैं। आने वाले गुजरात चुनाव पर भी अपना संदेश दे सकते हैं।

सोलर एनर्जी में पूरी दुनिया अपना भविष्य देख रही है
पीएम मोदी ने 94वें मन की बात कार्यक्रम में कहा था कि भारत सोलर एनर्जी से बिजली बनाने वाले बड़े देशों में शामिल होने जा रहा है। सूर्य देव का ये वरदान है – ‘सौर ऊर्जा’। सोलर एनर्जी आज एक ऐसा विषय है, जिसमें पूरी दुनिया अपना भविष्य देख रही है और भारत के लिए तो सूर्य देव सदियों से उपासना ही नहीं, जीवन क्रियाविधि के भी केंद्र में बने हुए हैं। भारत आज अपने पारंपरिक शिक्षण को आधुनिक विज्ञान से जोड़ रहा है, इसलिए आज हम सौर ऊर्जा से बिजली बनाने वाले सबसे बड़े देशों में शामिल हो गए हैं। पूरी खबर पढ़ें…

मोढेरा गांव के ज्यादातर घर, सौर ऊर्जा से बिजली पैदा कर रहे हैं।

मोढेरा गांव के ज्यादातर घर, सौर ऊर्जा से बिजली पैदा कर रहे हैं।

देश का पहला सूर्य ग्राम गुजरात का मोढेरा
पीएम ने गुजरात के मोढेरा की भी चर्चा की थी। उन्होंने कहा था कि आपने कुछ दिन पहले देश के पहले सूर्य गांव- गुजरात के मोढेरा की खूब चर्चा सुनी होगी। मोढेरा सूर्य ग्राम के ज्यादातर घर सौर ऊर्जा से बिजली पैदा करने वाले हैं। अब कई घरों में महीने भर में बिजली का बिल नहीं आ रहा है, बल्कि बिजली से कमाई की जा रही है। पीएम ने यहां के लोगों से भी बात की।

पीएम ने अंतरिक्ष में 36 उपग्रहों को लॉन्च करने के लिए बधाई दी
पीएम ने कहा था कि हमारा देश, सोलर सेक्टर के साथ ही स्पेस सेक्टर में भी जादू कर रहा है। पूरी दुनिया, आज भारत की उपलब्धियां देखकर हैरानी होती है। भारत ने एक साथ 36 उपग्रहों को अंतरिक्ष में स्थापित किया।

इसरो ने 23 अक्टूबर की रात 12:07 बजे इन सैटेलाइट्स को लॉन्च किया था।

इसरो ने 23 अक्टूबर की रात 12:07 बजे इन सैटेलाइट्स को लॉन्च किया था।

पीएम ने कहा कि मुझे वो पुराना समय भी याद आ रहा है, जब भारत को क्रायोजेनिक रॉकेट टेक्नोलॉजी देने से मना कर दिया गया था। लेकिन भारत के वैज्ञानिकों ने ना केवल स्वदेशी तकनीक विकसित की है बल्कि आज इसकी मदद से एक साथ उपग्रह अंतरिक्ष में भेज रहा है।

पीएम के मन की बात से जुड़ी ये खबरें भी पढ़ें…

पीएम ने 93वें मन की बात में चंडीगढ़ एयरपोर्ट का नाम शहीद भगत सिंह के नाम पर रखने का ऐलान किया था

मन की बात के 93वें एपिसोड में पीएम नरेंद्र मोदी ने ऐलान किया कि चंडीगढ़ एयरपोर्ट का नाम शहीद भगत सिंह के नाम पर रखा जाएगा। यह फैसला भगत सिंह की जयंती (28 सितंबर) पर उन्हें श्रद्धांजलि देने के लिए लिया गया है। पीएम ने कहा, ‘श्रद्धांजलि से पहले भगत सिंह जी की जयंती के ठीक पहले एक महत्वपूर्ण फैसला लिया गया है। यह तय किया गया है कि चंडीगढ़ एयरपोर्ट का नाम अब शहीद भगत सिंह जी के नाम पर रखा जाएगा। इसकी लंबे समय से प्रतीक्षा की जा रही थी। मैं चंडीगढ़, पंजाब, हरियाणा और देश के सभी लोगों को इस फैसले की बहुत-बहुत बधाई देता हूं।’ पढ़ें पूरी खबर…

Back to top button
%d bloggers like this: