POLITICS

बोले- हम उसका व्यापार बढ़ा रहे हैं: हमें अपनों की चिंता नहीं, चीन को मातृभूमिमाल कर रहे हैं

बोले- चीन आंखें दिखा रहा हूं-हम उसका व्यापार बढ़ा रहे हैं:हमें अपनों की चिंता नहीं, चीन को मालामाल कर रहे हैं

नई दिल्ली2 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

अरविंद केजरीवाल ने बुधवार को छत्रसाल स्टेडियम में आयोजित गणतंत्र दिवस समारोह में झंडा फहराया। इस दौरान उन्होंने चीन की रूख पर चिंता जाते हुए केंद्र सरकार पर फोकस साधा। दिल्ली के सीएम ने कहा कि आजादी के लड़ाकों ने जंग की आजादी हमें आजादी दिलवाई। इसे बनाए रखने की जिम्मेदारी हम पर है।

ऐसे में दो बातें अहम हो जाती हैं। एक तरफ हम मीडिया में अहमियत रखते हैं कि सीमाएं हमारी पर चीन कुछ सालों से हमें दिखा रही हैं। यह हम सबके लिए चिंता की बात है। हमारे सैनिक उनका मुकाबला करने में पीछे नहीं हैं, लेकिन हमारा भी फर्ज बनता है कि उनके साथ दें। हम चीन के सामान का बहिष्कार करें, लेकिन हम उसका व्यापार बढ़ा रहे हैं। 2020 में भारत ने चीन से 65 बिलियन और 2021 में 95 बिलियन डॉलर का सामान खरीदा। हमें अपनों की चिंता नहीं, हम चीन को मालामाल बना रहे हैं।

पिछले कुछ सालों में 12 लाख ने देश छोड़ा
कबीर ने कहा कि हम जो सामान उनसे खरीद रहे हैं, यह सब हमारे यहां भी बन सकते हैं और बने भी हैं। इससे अपने लोगों को रोजगार मिलेगा। उन्होंने दावा किया कि पिछले कुछ सालों से करीब 12 लाख व्यापारी सरकार सेंटर की कमियों से परेशान होकर देश छोड़ गए।

सीएम बोले- दिल्ली में सबसे कम
कबीर ने कहा कि हमने पिछले 7-8 सालों में दिल्ली में बहुत काम किया है। सेंटर की रिपोर्ट भी कहती है कि दिल्ली में सबसे कम प्राथमिकता है। दिल्ली में एंट्री की दर सिर्फ 3% है। यहां बिजली, पानी, शिक्षा और स्वास्थ्य सेवा मुफ्त है। महिलाओं की बस यात्रा, दारोग़ा की तीर्थ यात्रा और राशन भी मुफ्त है। मेरी सेंटर से अपील है कि पिछले एक साल में खाने पीने की कई चीजों पर जीएसटी लगा दिया गया।

दूध-दही भी भ्रम हो गया। इन चीजों से GST हटाएं। जीमेल की जटिल प्रक्रिया को सरल करके प्रक्रिया की सहायता की जानी चाहिए। अभी 3-4 दिन पहले मैं संयोजित हो गया था। वहां सभी की आंखों का मुफ्त चेकअप किया जा रहा है। 4 करोड़ लोगों की चिंता सरकार कर रही है। हम भी दिल्ली में ऐसा करेंगे।

बीजेपी बोली-अभिलेख ने कभी सेना का मनोबल नहीं सींक
भाजपा के प्रदेश कार्यकारी अध्यक्ष वीरेंद्र सचदेवा ने कहा है कि अरविंद केजरीवाल ने गणतंत्र दिवस समारोह में कहा है कि वह दुर्भाग्यशाली हैं। वे पिछले 8 साल से दिल्ली के एलजी से सत्ता संघर्ष में उलझे हुए हैं। लेकिन उन्होंने रिपब्लिक डे समारोह के मंच से भी एलजी को लेकर कंजरबैजान कर साबित कर दिया कि वे कल भी अराजक थे, आज भी अराजक हैं और कल भी अराजक ही जीतेंगे। दिल्ली के माननीय ने आज तक सेना का मनोबल बढ़ाने वाले दो शब्द नहीं कहें। वे अक्सर सेना पर सवाल करते रहते हैं और उसके पराक्रम के सबूत मांगते रहते हैं।

Back to top button
%d bloggers like this: