POLITICS

बीजेपी ने TMC के ‘खेला होबे’ नारे का इस्तेमाल उसी के खिलाफ किया, कही यह बात…

बीजेपी ने TMC के 'खेला होबे' नारे का इस्तेमाल उसी के खिलाफ किया, कही यह बात...

ममता बनर्जी की TMC ने 2021 के विधानसभा चुनाव से पहले ‘खेला होबे’ का नारा गढ़ा था

कोलकाता :

भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) ने पश्चिम बंगाल में सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस (TMC) के लोकप्रिय नारे ‘खेला होबे’ का इस्तेमाल उसी के खिलाफ करते हुए कहा कि राज्य में निर्धारित समय से पूर्व विधानसभा चुनाव हो सकते हैं. बीजेपी की पश्चिम बंगाल इकाई के अध्यक्ष सुकांत मजूमदार ने कहा कि उनकी पार्टी अहिंसा में विश्वास करती है, इसका मतलब यह नहीं है कि अगर धक्का-मुक्की की नौबत आती है तो वह इस पर प्रतिक्रिया नहीं देगी. बीजेपी नेता ने शुक्रवार को उत्तर 24 परगना जिले के बैरकपुर में एक जनसभा को संबोधित करते हुए कहा, ‘‘खेल दोनों पक्षों द्वारा खेला जाएगा (‘खेला होबे’) और यह खतरनाक होगा. ” ममता बनर्जी की तृणमूल कांग्रेस ने 2021 के विधानसभा चुनाव से पहले ‘खेला होबे’ का नारा गढ़ा था और यह बेहद लोकप्रिय हुआ था. पश्चिम बंगाल के बाहर कई अन्य पार्टियों ने भी बाद में इस नारे का इस्तेमाल किया था.

यह भी पढ़ें

सुकांत मजूमदार ने कहा, ‘‘ मैं आपको विश्वास दिलाता हूं कि राज्य की संपत्ति बेच रही तृणमूल कांग्रेस की सरकार को कुछ वर्षों में हटा दिया जाएगा. ” बीजेपी नेता ने राज्य में जल्द चुनाव होने की संभावना की ओर इशारा करते हुए दावा किया कि अगर पश्चिम बंगाल में विधानसभा चुनाव 2024 के लोकसभा चुनाव के साथ होते हैं तो उन्हें कोई आश्चर्य नहीं होगा. मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के नेतृत्व वाली तृणमूल कांग्रेस सरकार 2021 में लगातार तीसरी बार राज्य में सत्ता में आई है.

मजूमदार ने दावा करते हुए कहा कि टीएमसी के लगभग 300 कार्यकर्ता 2021 के चुनाव के बाद की हिंसा से संबंधित मामलों में सलाखों के पीछे हैं, जिनकी जांच सीबीआई द्वारा की जा रही है. उन्होंने कहा कि इसके अलावा और लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किए जाने की संभावना है.मजूमदार ने कहा कि जब तक प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी हैं, तब तक गैरकानूनी गतिविधियों में लिप्त किसी भी व्यक्ति को बख्शा नहीं जाएगा, चाहे वह किसी भी बड़े पद पर हो.

ये भी पढ़ें- 

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

Featured Video Of The Day

JNU के पूर्व छात्र उमर खालिद को 2020 के दिल्ली दंगों से जुड़े पथराव के मामले में किया गया बरी

Back to top button
%d bloggers like this: