POLITICS

प्रचार गीत में अखिलेश को बताया ‘मुरलीधर’, भाजपा प्रवक्ता बोलीं

  1. Hindi News
  2. राष्ट्रीय
  3. प्रचार गीत में अखिलेश को बताया ‘मुरलीधर’, भाजपा प्रवक्ता बोलीं- घोर कलियुग आ गया

समाजवादी पार्टी के कैंपेन सॉन्ग पर भाजपा प्रवक्ता ने कहा कि एसपी में घोर कलियुग आ गया है जो कि अखिलेश यादव खुद को भगवान बता रहे हैं।

यूपी के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव। फोटो क्रे़डिट- पीटीआई

उत्तर प्रदेश में 2022 विधानसभा चुनाव की तैयारियों जोर पकड़ने लगी हैं। एक तरफ जहां आरोप प्रत्यारोप बढ़ रहे हैं वहीं प्रचार का अभियान भी शुरू हो गया है। समाजवादी पार्टी ने अपना प्रचार गीत भी लॉन्च कर दिया है जिसके बोल हैं, ‘मुरलीधारी कृष्ण बदलकर वेश आ रहे हैं, अखिलेश आ रहे हैं, अखिलेश आ रहे हैं।’ भाजपा ने इस गीत को लेकर सवाल भी उठाए हैं।

आजतक पर लाइव डिबेट के दौरान भाजपा प्रवक्ता नुपुर शर्मा ने कहा, ‘घोर कलियुग आ गया है। भगवान को और कितना अपमानित करेंगे कि खुद को ही भगवान बता दिया। शर्म नहीं आती। खुद को विष्णु अवतार बताने वालों ने एक ज़माने ने विष्णु अवतार के भक्तों पर गोली चलवा दी थी। सबसे पहले अखिलेश बताएँ कि ब्रज के लिए क्या किया हैय़’

भाजपा प्रवक्ता ने आगे कहा, ‘आज तक मैंने तो अखिलेश को ब्रज की होली खेलते नहीं देखा। योगी जी ज़रूर गए। अपने आपको भगवान कहने वाले हमारे भगवान को गाली देते हैं।’ इसपर सपा प्रवक्ता ने कहा, जिसकी जैसी सोच होगी, वैसा ही सोचेगा। उन्होंने कहा, प्रधानमंत्री ने जिस महिला के पैर छुए थे, उसका नाम था सीता। कोरोना के समय उस महिला को इलाज नहीं मिला। उन्होंने गड्ढामुक्त यूपी और बेरोजगारी के मुद्दे पर भी भाजपा को घेरने की कोशिश की।

सपा प्रवक्ता ने कहा, कफन चोरों से किसी सर्टिफिकेट की ज़रूरत नहीं है। इसी पर कांग्रेस प्रवक्ता ने कहा, 29 सालों में सपा, भाजपा सब टेस्टेड और रिजेक्टेड हो चुकी हैं। इस बार कांग्रेस प्रियंका जी के नेतृत्व में यूपी में सरकार बनाने जा रही है।

बता दें कि समाजवादी पार्टी ने अपने आधिकारिक पेज से यह गीत शेयर किया है। इस गाने के जरिए सपा सरकार के कामों की तारीफ की गई साथ ही आगे की रूपरेखा की भी एक झलक पेश करने की कोशिश की गई। हालांकि इस गाने की जमकर आलोचना भी हो रही है।

  • Jaya Kishori Age, Jaya Kishori ki bhagwat, Jaya Kishori biography, Jaya Kishori fees, Jaya Kishori wikipedia, Jaya Kishori ka pravachan,

Read More

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
%d bloggers like this: